67 वें अंतर्राष्ट्रीय बर्लिन फिल्म महोत्सव के लिए चुनी गई फिल्म आबा

जीरो

अरुणाचल प्रदेश के अपातानी भाषा में बनी तथा जीरो में फिल्माई गई फिल्म ‘आबा’ को 67 वें अंतर्राष्ट्रीय बर्लिन फिल्म महोत्सव के लिए चुना गया है| अरुणाचल प्रदेश के फिल्म और मनोरंजन के इतिहास में यह एक बड़ी उपलब्धि है| ईटानगर के स्पेस मिरेकल स्टूडियोज के बैनर तले बनी इस लघु फिल्म का निर्देशन बॉलीवुड के प्रसिद्ध फिल्म निर्देशक अमर कौशिक ने किया है और फिल्म के को-प्रोड्यूसर है एलिसन वेल्ली | ‘आबा’ को  67 वें अंतर्राष्ट्रीय बर्लिन फिल्म महोत्सव के Generation Competition Category’ में औपचारिक रूप से चुना गया है|

1951 में शुरू हुआ बर्लिन अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव दुनिया का सबसे अग्रणी फिल्म महोत्सव और सम्मानित मीडिया इवेंट रहा है| हर साल जर्मनी के बर्लिन शहर में इस फिल्म महोत्सव का आयोजन होता है|

फिल्म ‘आबा’ की पूरी शूटिंग अरुणाचल के जीरो में की गई है और इसमें अभिनय करने वाले सभी कलाकार जीरो से ही है| दानी रांडा फिल्म के मुख्य किरदार आबा की भूमिका में है जबकि दानी चुन्या, दानी सुकू, हागे यामी और डॉ. जोराम खोपे अन्य भूमिकाओं में नजर आएंगे| फिल्म का निर्माण चूँकि आपातानी भाषा में हुआ है इसलिए राज्य के लिए यह अंतर्राष्ट्रीय सम्मान अधिक गौरव लेकर आया है|

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निर्देशक ओनिर के लंबे समय से सहायक रहे बॉलीवुड के प्रसिद्ध निर्देशक अमर कौशिक ने फिल्म की कहानी लिखी है और उसका निर्देशन किया है| कौशिक, रानी मुखर्जी अभिनीत फिल्म ‘No One Killed Jessica’ के भी सहायक निर्देशक रह चुके है|

प्रदेश की प्रसिद्ध फिल्म ‘Itanagar 0 KM’ का निर्माण करने के बाद स्पेस मिरेकल स्टूडियोज के ही बैनर तले एलिसन वेल्ली ने इस फिल्म का निर्माण किया है| प्रदेश के ही एक अन्य प्रसिद्ध फोटोग्राफर हाली वेल्ली का भी इस लघु फिल्म के निर्माण में हाथ रहा है|

67 वें अंतर्राष्ट्रीय बर्लिन फिल्म महोत्सव के लिए भारत से सिर्फ फिल्म ‘आबा’ का ही आधिकारिक तौर पर चुनाव हुआ है| 11 फरवरी 2017 को  ‘Generation Kplus competition’ में यह फिल्म प्रदर्शित की जाएगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: