NATIONAL

दार्जिलिंग में GJM का हिंसक प्रदर्शन, सैलानी फंसे, सड़कों पर उतरी सेना

दार्जिलिंग

पश्चिमी बंगाल का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल दार्जिलिंग में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो)  GJM का आन्दोलन कल उस समय हिंसक रूप ले लिया जब राज्य की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी अपने मंत्रियों के साथ दार्जिलिंग में मौजूद थीं.

दार्जिलिंग में GJM का हिंसक प्रदर्शन, सैलानी फंसे, सड़कों पर उतरी सेनाहिंसक आंदोलन में प्रदर्शनकारियों ने दर्जनों सरकारी वाहनों को आग के हवाले कर दिया, जिनमें पांच पुलिस जीप शामिल थीं। कई सरकारी बसों में भी तोड़फोड़ की गई। इसके बाद उन्होंने पुलिस पर जमकर पथराव किया, जिनमें उत्तर बंगाल के डीआईजी समेत 50 पुलिस कर्मी जख्मी हो गए। उग्र प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए हालांकि उससे स्थिति नियंत्रण में नहीं आई।

बता दें कि ममता सरकार पर पहाड़ के शिक्षा संस्थानों में बांग्ला भाषा को जबरन अनिवार्य करने का आरोप लगाकर पिछले एक महीने से गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) आंदोलन कर चला रहा हैI

हालात बिगड़ते देख सेना ने मोर्चा संभाल लिया है। हिंसक वारदातों के कारण होटल, दुकान-बाजार, वाहनों का आवागमन बंद हो गया, जिससे करीब 10,000 पर्यटक वहां फंस गए हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पहाड़ में फंसे सभी पर्यटकों को सुरक्षित समतल पर लाने का भरोसा दिया है ।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close