किरण रिजीजू ने किया BRO द्वारा निर्मित पुलों का उद्घाटन

तेजपुर

किरण रिजीजू ने किया BRO द्वारा निर्मित पुलों का उद्घाटनकेन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने 14 अप्रैल 2017 को सीमा सड़क संगठन BRO के प्रोजेक्ट वर्तक द्वारा ओरांग-कलकातांग-शेरगांव-रूपा-टेंगा (ओ.के.एस.आर.टी.) रोड के कि.मी. 38.50, कि.मी. 37.645 एवं कि.मी. 48.51 पर निर्माण किए गए तीन पुल क्रमशः शेर ब्रिज ( 35 मीटर लंबाई), शिकारी ब्रिज (40 मीटर लंबाई) एवं बालेमू ब्रिज (60 मीटर लंबाई) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अरुणाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष तेनजिंग नोर्बू थोंगडाॅक, अपर महानिदेशक, सीमा सड़क (पूर्वी) डाॅ. एस एस पोरवाल, वर्तक परियोजना के मुख्य अभियंता ब्रिगेडियर जे एस ईशर, 14 सीमा सड़क कृतिक बल के कमांडर कर्नल प्रदीप तिवारी और सीमा सड़क संगठन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कथित पुलों का निर्माण कार्य वर्ष 2013 में शुरू हुआ था एवं इनके निर्माण पर कुल रुपये 1131.41 लाख का व्यय हुआ है। इन पुलों का निर्माण सीमा सड़क संगठन ने विभागीय तौर पर निर्धारित समय सीमा में किया है। इन पुलों के निर्माण कार्य में 1441 सेतु निर्माण कंपनी के लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष पाठक, कमान अधिकारी एवं सहायक अधिशासी अभियंता(सिविल) हेमंत कुमार एस.बी लाल, प्रभारी अधिकारी थे।

उल्लेखनीय है कि ओ.के.एस.आर.टी. रोड की लंबाई लगभग 158 कि.मी. है जो असम राज्य के ओरांग से प्रारंभ होता है और अरुणाचल प्रदेश के टेंगा स्थान पर बालीपारा-चारदुआर-तवांग रोड पर जाकर मिलता है। कथित तीनों पुल के निर्माण हो जाने से ओ.के.एस.आर.टी. रोड पर वाहनों का आवागमन सुगम एवं सुरक्षित हो जाएगा। ओ.के.एस.आर.टी. रोड के चालू हो जाने से गुवाहाटी और टंेगा के बीच की दूरी लगभग 35 कि.मी. कम हो गयी है, जोे इस क्षेत्र की आबादी के लिए बहुत बड़ी राहत है। इस सड़क के निर्माण से पश्चिमी कामेंग और तवांग जिलों के बीच आवागमन में सुधार होगा परिणामस्वरूप इन क्षेत्रों में पर्यटन और व्यापार की संभावनाओं को बढ़ावा मिलेगा।

इस उद्घाटन के अवसर पर प्रोजेक्ट वर्तक के मुख्य अभियंता ब्रिग्रेडियर जे एस ईशर ने गृह राज्य मंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया गया। गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने सीमा सड़क संगठन के प्रोजेक्ट वर्तक के तहत कार्यरत 1441 सेतु निर्माण कंपनी द्वारा कथित पुलों को निर्धारित समयावधि में पूर्ण करने के लिए खुशी जाहिर की। उन्होंने , असम और अरुणाचल प्रदेश के दूर-दराज के क्षेत्रों को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए सीमा सड़क संगठन के प्रयासों की सराहना की और सभी अधिकारियों, कर्मचारियों एवं मजदूरों को उनके कठिन परिश्रम के लिए बधाई दी तथा पिछले ढाई वर्ष में सीमा सड़क संगठन द्वारा किए गए कामों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि ओ.के.एस.आर.टी. रोड के निर्माण से इस क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: