असम और अरुणाचल प्रदेश से आंशिक तौर पर हट सकता है आफ्सपा

नई दिल्ली

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने असम और अरुणाचल प्रदेश में सुरक्षा हालात में सुधार को देखते हुए आफ्सपा को आंशिक तौर पर हटाने की उम्मीद जताई है| गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने सुरक्षा व्यवस्था के आकलन के आधार पर बताया कि भाजपा शासित पूर्वोत्तर राज्यों असम और अरुणाचल प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति में सुधार को देखते हुए यह पहल की गई है|

अधिकारी ने बताया कि आकलन रिपोर्ट से स्पष्ट है कि इससे पहले दोनों राज्यों में सुरक्षा व्यवस्था की स्थिति पहले से काफी बेहतर हुई है| इसके मद्देनजर दोनों राज्यों में आफ्सपा को आंशिक तौर पर हटाने के बारे में राज्य सरकारों से भी राय ली गई है| इससे पहले हाल ही में इन राज्यों में आफ्सपा की अवधि को घटाने की भी पहल की गई थी|

हालांकि इस साल मई में केंद्र सरकार ने समूचे असम को अशांत क्षेत्र घोषित करते हुए आफ्सपा की अवधि में तीन महीने का इजाफा किया था, जबकि अरुणाचल प्रदेश के असम की सीमा से लगे तीन जिलों तिराप, चांगलांग और लोंगडिंग को अशांत क्षेत्र घोषित करते हुए इनमें आफ्सपा की अवधि तीन महीने के लिए बढ़ाने का फैसला किया है| असम में आफ्सपा साल 1990 से और अरुणाचल प्रदेश के तीन जिलों में जनवरी 2016 से लागू है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: