कामतापुर राज्य की मांग में आक्रासू के बंद से जनजीवन बाधित

बंगाईगाँव

अलग कामतापुर राज्य की मांग में अखिल असम कोच राजवंशी छात्र संघ द्वारा आहूत बंद के दौरान आज राज्य के विभिन्न स्थानों में जनजीवन बाधित रहा| 24 घंटे के बंद का खास तौर से पश्चिम असम में प्रभाव देखा गया|

आक्रासू कोच राजवंशी समुदाय को अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिए जाने की भी मांग कर रहा है| बंगाईगाँव के अभयापुरी और माणिकपुर के अलावा बाग्सा के गोरेश्वर में भी बंद का पूरा असर देखा गया|

विभिन्न स्थानों में आक्रासू के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल का पुतला जलाया| दूसरी तरफ छात्र संघ के कार्यकर्ताओं ने गोलकगंज के राष्ट्रीय राजमार्ग 31 में टायर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया| बंगाईगाँव में प्रदर्शनकारियों ने एक ट्रक को आग के हवाले कर दिया|

कोच राजवंशी अलग कामतापुर राज्य में कुचबिहार, जलपाईगुड़ी, दार्जीलिंग, उत्तर दिनाजपुर, दक्षिण दिनाजपुर और बंगाल तथा धुबड़ी के मालदा जिलों, बंगाईगाँव, कोकराझाड़, ग्वालपाड़ा, बारपेटा, दरंग, सोनितपुर, धेमाजी, लखीमपुर और मोरीगांव जिले को शामिल करना चाहता है|

आक्रासू ने कोच राजवंशियों को अब तक अनुसूचित जनजाति का दर्जा न दिए जाने पर भी नाराजगी जताई है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: