सिक्किम – भारत-चीन सीमा पर बढ़ता जा रहा है तनाव

गैंगटोक

दो दिन पहले  सिक्किम क्षेत्र में भारतीय सीमा के अंदर चीनी सैनिकों के घुसने के बाद  भारत-चीन सीमा पर स्थिति सामान्य होने के बजाए तनाव बढ़ता जा रहा है. भारत के शीर्ष सैन्य अफसर इलाके में कैंपिंग कर रहे हैं. कि सिक्किम में डोका ला जनरल इलाके में लालटेन चौकी के समीप दोनों बलों के बीच धक्का मुक्की होने के बाद भारतीय अधिकारी और दिल्ली स्थित सैन्य मुख्यालय हर घंटे हालात पर पैनी नजर रखे हुए है. मीडिया रिपोर्ट्स के अऩुसार मौके पर भारत और चीन, दोनों के ही करीब एक-एक हजार सैनिक बीते दस दिनों से आमने-सामने हैं.

सूत्रों के मुताबिक चीनी सेना के जवान विवादित इलाके में सड़क निर्माण के भारी-भरकम साजोसामान के साथ मौजूद हैं. इससे पहले, बीते 20 जून को दोनों देशों के कमांडरों के बीच हुई फ्लैग मीटिंग असफल रही और कोई निष्कर्ष नहीं निकला.

उधर चीन ने सिक्किम सेक्टर सड़क के निर्माण को जायज ठहराते हुए कहा कि यह इलाका 1890 के चीन-ब्रिटेन संधि के अनुरूप बिना किसी संदेह के उसकी सीमा क्षेत्र में है. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने एक बयान में कहा, संधि के अनुसार झे सिक्किम का प्राचीन नाम है। लू ने कहा कि चीन और भारत दोनों ने चीन-भारत सीमा के सिक्किम खंड को मान्यता दी हुई है.

जम्मू-कश्मीर से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक 3,488 किलोमीटर भारत-चीन सीमा का 220 किलोमीटर का हिस्सा सिक्किम में आता है. भारतीय सेना और पीएलए के बीच हुई झड़प के बाद चीनी जवानों ने सीमा पर भारत की तरफ बने बंकरों को नष्ट कर दिया था. यह वाकया दोनों सेनाओं के आमने सामने आने के बाद डोका ला सामान्य इलाके के लालटेन पोस्ट के पास जून के पहले हफ्ते में हुआ था. इसके बाद सीमा पर तनाव बढ़ गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: