असम, त्रिपुरा और मणिपुर में तंबाकू का इस्तेमाल बढ़ा: जीएटीएस रिपोर्ट

 

गुवाहाटी

पूर्वोत्तर के तीन राज्य असम, त्रिपुरा और मणिपुर में तंबाकू का इस्तेमा बढ़ रहे है. जी हाँ आप माने या न माने लेकिन यह सच है. ‘ग्लोबल अडल्ट टोबैको सर्वे’ (जीएटीएस) की क्षेत्रीय रिपोर्ट में यह पता चला है कि देश में 2009 से 2017 के बीच यूं तो तंबाकू के इस्तेमाल में कमी आई है लेकिन असम , त्रिपुरा और मणिपुर में तंबाकू का इस्तेमाल बढ़ा है.

रिपोर्ट के अनुसार जहां देश भर में खैनी का उपयोग 25.9 प्रतिशत से घट कर 21.4 प्रतिशत पर आ गया है वहीं असम और त्रिपुरा में सिगरेट अथवा बीड़ी की बजाए खैनी का चलन काफी बढ़ा है. वहीं  सिक्किम में इसमें काफी गिरावट आई है लेकिन मिजोरम, मेघालय और नगालैंड में इसमें मामूली इजाफा हुआ है.

जहां सभी राज्यों में तंबाकू के इस्तेमाल में कमी आई है तो असम में तंबाकू का इस्तेमाल 39.3 प्रतिशत से बढ़ कर 48.2 प्रतिशत हो गया. त्रिपुरा में 55.9 से बढ़ कर 64.5 प्रतिशत और मणिपुर में 54.1 से बढ़ कर 55.1 प्रतिशत हो गया है.

असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने रिपोर्ट जारी करने के कार्यक्रम के दौरान कहा कि जीएटीएस की खोज पूर्वोत्तर राज्यों में तंबाकू के इस्तेमाल पर महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराती है और इससे असम और हमारे क्षेत्रों में तंबाकू नियंत्रण नीति एवं निरोधक कार्यक्रमों को मजबूत करने में मदद मिलेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: