नागरिकता विधेयक के विरोध में दिल्ली में नगन प्रदर्शन, शिलांग में BJP कार्यालय पर हमला

नागरिकता विधेयक के विरोध में  दिल्ली में नगन प्रदर्शन, शिलांग में BJP कार्यालय पर हमला,  AGP ने BJP से नाता तोड़ा.


नई दिल्ली

नागरिकता विधेयक को ले कर पूर्वोत्तर के हालात बिगड़ने लगे हैं. कैबिनेट द्वारा नागरिकता विधेयक पारित किये जाने के तुरंत बाद असम में AGP ने BJP से समर्थन वापस ले लिया. हालांकी समर्थन वापस लेने से सरकार पर कोई खतरा नहीं है.

दूसरी और असम के युवाओं और किसानों ने आज नई दिल्ली और तिनसुकिया में न्यूड प्रदर्शन (नग्न प्रदर्शन) किया. ये प्रदर्शन नागरिकता (संशोधन) बिल 2016 के विरोध में किया गया. इसके अलावा कांग्रेस भी लोकसभा के बाहर इस मुद्दे को उठाते हुए प्रदर्शन की.

ये प्रदर्शन लोकसभा में इस बिल पर जेपीसी की रिपोर्ट आने के बाद से शुरू हुआ है. किसान समुदाय, कृष्क मुक्ति संग्राम समिति (केएमएसएस) के सदस्यों ने संसद के बाहर प्रदर्शन किया. इसके साथ ही ये लोग लोकसभा में उठाए गए इस कदम के खिलाफ नारेबाजी करते नजर आए.

इन प्रदर्शनकारियों को संसद के बाहर सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए गिरफ्तार कर लिया है. इसी तरह का एक नग्न प्रदर्शन असम के तिनसुकिया जिले में भी किया जा रहा है. आज के दिन को असम में काला दिवस के रूप में मनाया जा रहा है.

नागरिकता विधेयक के विरोध में दिल्ली में नगन प्रदर्शन, शिलांग में BJP कार्यालय पर हमला

तीसरी खबर मेघालय की राजधानी शिलांग से आ रही है जहां कुछ  अज्ञात लोगों ने भाजपा कार्यालय पर पेट्रोल बम फेंका, जिससे कार्यालय आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया.  पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी. कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे थे और इसलिए हमलावरों की पहचान करने में  पुलिस को समय लग रहा है.

नागरिकता (संशोधन) विधेयक को लेकर क्षेत्र में कई जगहों पर प्रदर्शन हो रहे हैं. नागरिकता अधिनियम, 1955 में संशोधन के लिये लोकसभा में यह विधेयक पेश किया गया है. इसमें वैध दस्तावेज विहीन अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैन, पारसियों और ईसाइयों को भारतीय नागरिकता देने का प्रस्ताव है. इसके लिये उनके निवास काल को 12 वर्ष से घटाकर छह वर्ष कर दिया गया है.

पूर्वोत्तर में लोगों का एक बड़ा वर्ग और कई संगठन विधेयक का विरोध कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: