कामतापुर राज्य और जनजातिकरण की मांग में आक्रासू का रेलवे मार्ग अवरोध

बासुगांव

कामतापुर राज्य और कोच राजवंशी जनगोष्ठी के जनजातिकरण की मांग में चिरांग जिले के बासुगाँव में आज आक्रासू के सदस्यों ने रेलवे मार्ग का अवरोध किया| हजारों की संख्या में लोग हाथों में प्ले कार्ड लेकर सुबह 5 बजे से बासुगाँव रेलवे स्टेशन में रेलवे ट्रैक पर बैठ गए|

प्रदर्शनकारियों ने कामतापुर राज्य के पुनर्गठन की मांग में विभिन्न नारे लगाकर माहौल उत्तेजित कर दिया| बासुगाँव रेलवे स्टेशन में रेल रोको आंदोलन के मद्देनजर रेलवे प्रबंधन ने कई यात्री ट्रेनों की आवाजाही रद्द कर दी|

इस आंदोलन की वजह से असम और बंगाल के बीच रेलवे संपर्क पर जबरदस्त असर पड़ा है| रेलवे यात्रियों को भी आंदोलन की वजह से परेशानियाँ उठानी पड़ी| कामरूप एक्सप्रेस को डालखोला में रोकना पड़ा तो यशवंतपुर-कामाख्या एक्सप्रेस, ब्रह्मपुत्र मेल, गुवाहाटी-इंदौर स्पेशल समेत कई ट्रेनें अलग-अलग स्टेशनों पर रोक दी गई|

कामतपुर को अलग राज्य बनाने की मांग समय-समय पर उठाई जाती रही है| कई बार इस मांग के समर्थन में आंदोलन भी हो चुके हैं| मुख्त तौर पर यह मांग कामतापुर पीपुल्स पार्टी की ओर से शुरू की गई थी| लेकिन  स्थानीय सियासी दल कूच बिहार और जलपाईगुड़ी समेत पश्चिम बंगाल के कई जिलों और असम के कुछ हिस्सों को मिलाकर अलग राज्य की मांग करते रहे हैं| उनका कहना है कि इस इलाके में राजवंशी लोग रहते हैं, उनकी भाषा भी बंगाली से अलग राजवंशी या कामरूपी है| लिहाजा इसे अलग राज्य बना दिया जाना चाहिए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: