GUWAHATI

गुवाहाटी में दो दिवसीय डिजीधन मेला का शुभारंभ

गुवाहाटी

शहर के श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में दो दिवसीय डिजीधन मेला का बुधवार को मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने शुभारंभ किया| मेले का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य कैशलेस व्यवस्था को लोकप्रिय बनाने तथा इसके बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए आयोजित इस डिजीधन मेला के जरिए तकनीक को हर नागरिक के मन मस्तिष्क से जोड़ना होगा| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विमुद्रीकरण के जरिए देश में भ्रष्टाचार, आतंकवाद,कालाधन और फर्जी नोटों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक किया है| यह एक शक्तिशाली पहल है|

उन्होंने कहा कि विमुद्रीकरण देश को स्वच्छ अर्थव्यवस्था की ओर ले जाएगा| सोनोवाल ने विमुद्रीकरण प्रक्रिया के प्रति राज्यवासियों के पूर्ण समर्थन के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि कर संग्रह के लिए भी सरकार कैशलेस व्यवस्था को हर विभाग में लागू करेगी| उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार के डिजीधन मेले के आयोजन के लिए सूचीबद्ध देश के 100 शहरों में से गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ शामिल है| गुवाहाटी के बाद 3 फरवरी से डिब्रूगढ़ में भी डिजीधन मेला का आयोजन होगा|

उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय डोनर मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि पूर्वोत्तर के विकास के बगैर देश का विकास संभव नहीं है| कैशलेस व्यवस्था लागू होने से गरीब से गरीब व्यक्ति को फायदा हो रहा है| आतंकी गतिविधियों में 60 फीसदी की कमी आई है|

वित्त मंत्री डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने भी उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि डिजीधन मेले से कैशलेस व्यवस्था को अधिक प्रोत्साहन मिलेगा| उन्होंने बताया कि इस व्यवस्था की वजह से राज्य सरकार को मिलनेवाले कर में नवंबर महीने में 13 फीसदी तो दिसंबर महीने में 21 फीसदी वृद्धि हुई है|

उद्घाटन समारोह के मौके पर वित्त विभाग और एसबीआई के सहयोग से बनाए गए एक ई-पोर्टल, डिजीधन मेला की स्मारिका, टका-पोईसा नामक एक ई-बटुवा का भी मुख्यमंत्री ने लोकार्पण किया| इसके अलावा एनपीसीआई की ओर से लकी ड्रा के विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया|

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close