राजस्थान के गोयनका पब्लिक स्कूल का प्रतिनिधिमंडल तेजपुर में

तेजपुर

शिक्षा के क्षेत्र में लोकप्रिय गोयनका पब्लिक स्कूल,राजस्थान का एक प्रतिनिधिमंडल संस्था के को-चेयरमैन अशोक बिदासरिया के नेतृत्व में कल तेजपुर पहुंचा| उनके साथ प्रशासनिक सचिव गिरीश शर्मा, शिक्षक प्रतिनिधि प्रदीप राठोड़ के अलावा केंद्रीय हिंदी संस्थान के पूर्व क्षेत्रीय निदेशक हेमराज मीणा भी थे|

Ashok Bidasaria

बिदासरिया ने तेजपुर के गणमान्य व्यक्तियों से मिलकर बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान दिन दूनी रात चौगुनी प्रगति कर रहा है| हमारे शिक्षण संस्थानों से उत्तीर्ण युवा न सिर्फ देश बल्कि विदेशों में भी नाम, यश एवं ख्याति अर्जित कर चुके हैं| उन्होंने असम के नागरिकों से अनुरोध किया कि वे अपने बच्चों को कक्षा 5 से 12 तक की पढ़ाई तथा सर्वांगीण विकास के लिए गोयनका पब्लिक स्कूल को ही प्राथमिकता दें|

पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में बिदासरिया ने कहा, “असम में निवास करने वाले राजस्थान राज्य के बच्चे गत 10 वर्षों से हमारे विद्यालय में अध्ययन के लिए आते है| इन्ही बच्चों के आग्रह पर अपनी शिक्षण संस्थान की विशिष्ट जानकारी उपलब्ध कराने के लिए ही मैं यहाँ आया हूँ| हम समय-समय पर राजस्थान के विशिष्ट रचना शिल्पियों को आमंत्रित कर उनके व्याख्यान सृजित करते हैं| अपने सांस्कृतिक परिवेश से छिटके बच्चों को उनके सांस्कृतिक परिवेश से जोड़ने का प्रयास करते हैं|’

वैश्विक स्तरीय नवीनतम शिक्षण पद्धति की दिशा में उठाए गए कदमों के बारे में उन्होंने बताया कि विषय विशेषज्ञ शिक्षाविदों के परामर्श से विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवीनतम शिक्षण बिंदूओं को ध्यान में रखते हुए विशेषज्ञ प्रशिक्षित शिक्षकों के सहयोग से कक्षाध्यापन का कार्य प्रत्येक कार्य दिवस में संपन्न कराते हैं|

उन्होंने कहा, “हमारे विद्यालय के पास विश्वस्तरीय खेल मैदान है जिसमें बच्चे तैराकी, घुड़सवारी, क्रिकेट, बास्केटबॉल, फुटबॉल, टेनिस, हैंडबॉल, एथलेटिक्स, जुडो-कराटे आदि में सुयोग्य प्रशिक्षकों के निर्देशन में प्रवीणता प्राप्त करते हैं| इसके अतिरिक्त वाद-विवाद, संगीत, नाटक, नृत्य आदि का भी आयोजन करते रहते है|”

Grish Sharma

राजस्थान प्रदेश के शेखावटी क्षेत्र के लक्ष्मणगढ़ निवासी श्यामसुंदर गोयनका ने एक विशेष सांस्कृतिक उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए गोयनका पब्लिक स्कूल की अपने जन्मस्थान पर स्थापना की है| राजस्थान प्रांत के जो लोग वर्षों से पूर्वोत्तर भारत में निवास कर रहे हैं उनके बच्चे अपनी मूल जन्मस्थली की संस्कृति, भाषा और लोक जीवन से जुड़े रहें| उच्चस्तरीय आधुनिक शिक्षण पद्धति से राजस्थान के शेखावटी अंचल में आकर मारवाड़ी समाज के बच्चे शिक्षा अर्जित कर सकें इस लक्ष्य को ध्यान में रखकर यह शिक्षण संस्था समर्पित है|

गोयनका पब्लिक स्कूल एक आवासीय व्यवस्था वाला उच्चस्तरीय विद्यालय है, जिसके पास छात्रों का तथा छात्राओं का छात्रावास है, जो वातानुकूलित है| भोजन की व्यवस्था बिलकुल शाकाहारी है| भोजन के निर्माण में स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाता है| इस विद्यालय में विज्ञान, वाणिज्य तथा कला वर्ग में अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं का प्रतिवर्ष प्रशंसनीय परिणाम आता है| समय-समय पर स्तरीय साहित्यिक-सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होता है, जिसके उपरान्त छात्रों को पुरस्कार आदि देकर उत्साह प्रदान किया जाता है|

गोयनका पब्लिक स्कूल में सुरक्षा-व्यवस्था एकदम सख्त है| समय-समय पर बच्चों के स्वास्थ्य का परिक्षण भी किया जाता है| यहाँ से अध्ययन कर चुके बच्चे देश की आईआईटी और मेडिकल कॉलेजों में पढ़ रहे है| श्रेष्ठ और स्तरीय शिक्षा गोयंका पब्लिक स्कूल का मूल मंत्र है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: