NORTHEAST

NORTHEAST की- ख़बरें फ़टाफ़ट

तवांग- सेना ने बर्फीले तूफ़ान में फंसे 127 पर्यटकों को सुरक्षित निकाला

NORTHEAST की- ख़बरें फ़टाफ़ट सेना ने रविवार को अरुणाचल प्रदेश में तवांग के नजदीक सेला दर्रे में फंसे 127 पर्यटकों को सुरक्षित निकाला। हालांकि खड्ड में गिरने से एक बुल्गारियाई पर्यटक की मौत हो गई। सेना के ब्लेजिंग सोर्ड डिविजन के जवानों ने शनिवार रात से बचाव अभियान चलाया। अभियान रविवार तड़के पूरा हुआ। पर्यटक अहिरगढ़, सेला और नुरानंग के बीच शनिवार दोपहर बर्फीले तूफान में घिर गए थे। सुरक्षित बचाए गए पर्यटकों में जापान, न्यूजीलैंड और बुल्गारिया के पांच पर्यटक हैं। मध्यरात्रि के करीब बुल्गारियाई नागरिक का शव बरामद हुआ। सुरक्षित निकाले गए पर्यटकों को सेना के ट्रांजिट कैंप में ठहराया गया और चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई गई। रविवार को सीमा सड़क संगठन द्वारा सड़क पर जमी बर्फ हटाने के बाद उसे यातायात के लिए खोला गया। बिर्दी ने कहा कि अधिकतर लोग अपने गंतव्य की ओर रवाना हो गए।

मणिपुर-  विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों का शपथ ग्रहण

60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों ने आज पद व गोपनीयता की शपथ ली| इससे पहले प्रदेश की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला ने राज भवन में आयोजित एक सादे समारोह में वी. हंगखालियन को प्रो-टर्म स्पीकर के रूप में शपथ दिलाई| शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए शनिवार की शाम को ही कई नवनिर्वाचित बीजेपी सदस्य गुवाहाटी से इंफाल लौट गए थे| 60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा में कांग्रेस के विधायकों की संख्या 28 से घटकर अब 27 रह गई है, चूँकि कांग्रेस विधायक टी. श्यामकुमार कैबिनेट में शामिल हो गए है| सोमवार को एन. बिरेन सिंह के नेतृत्व में भाजपा गठबंधन को फ्लोर टेस्ट देना होगा|

गुवाहाटी- डॉ. रनोज कुमार पेगु बीजेपी में शामिल

मिसिंग स्वायत्त शासी परिषद के मुख्य कार्यकारी सदस्य तथा गणशक्ति पार्टी के नेता डॉ. रनोज कुमार पेगु शनिवार को सत्ताधारी बीजेपी में शामिल हो गए| बीजेपी में शामिल होने के मौके पर गुवाहाटी के पार्टी मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष रंजित कुमार दास और खेल मंत्री नव कुमार दले भी उपस्थित थे| अगले महीने होने जा रहे धेमाजी उपचुनाव में पेगु को पार्टी की ओर से टिकट दिए जाने की संभावना है|  इस बीच सत्ताधारी भाजपा गठबंधन और असम गण परिषद में धेमाजी की सीट को लेकर अनबन चल रही है| असम गण परिषद की जिला समिति इस सीट पर अपनी पार्टी का उम्मीदवार चाहती है| इस मुद्दे पर गुवाहाटी में दोनों पार्टियों के नेता लगातार बैठकों में शामिल हो रहे है| इधर कांग्रेस धेमाजी के लिए पार्टी उम्मीदवार पहले ही घोषित कर चुकी है|

गुवाहाटी- दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना को लेकर मुख्यमंत्री का निर्देश

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनवाल ने दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना को लागू करने वाली एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वे अपने काम की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए निर्धारित समय-सीमा में इस योजना के क्रियान्वयन का काम पूरा करे| असम में कुल 2,892 गाँव में बिजली नहीं थी| इन्मेक्स से अब तक 2,015 गाँव में इस योजना के तहत बिजली की व्यवस्था की गई है| वहीँ 692 गाँव में बिजली की व्यवस्था का काम चल रहा है|

शिलोंग- भारतीय सेना और बांग्लादेश सेना का साझा साइकिल अभियान

NORTHEAST की- ख़बरें फ़टाफ़ट 22 मार्च 2017 से 4 अप्रैल 2017 तक भारतीय सेना और बांग्लादेश सेना मिलकर साइकिल अभियान शुरू करेगी| भारत के अगरतला से शुरू होने जा रहा यह साइकिल अभियान कोमिल्ला, ढाका, जेस्सोर होते हुए बांग्लादेश के मुख्य शहरों से गुजरेगा और कोलकाता में पहुंचकर समाप्त होगा| इस तरह के साझा कार्यक्रमों का उदीश्य दोनों देशों के बीच सैन्य स्तर पर आपसी समझ और सहयोग बढ़ाना है| भारत और बांग्लादेश की सेनाओं में 15-15 सिपाही होंगे जिनमें अधिकारी, JCO, OR भी शामिल होंगे| 12 दिनों में यह दल 500 किलोमीटर की यात्रा करेगा| इस अभियान के दौरान यह दल 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के ऐतिहासिक युद्ध स्थलों का भी दौरा करेगा| 22 मार्च को अगरतला से YSM, VSM, GOC Gajraj Corps Lt Gen ए.एस बेदी अभियान का शुभारंभ करेंगे|

इम्फाल – आर्थिक नाकाबंदी होगी खत्म

मणिपुर में भाजपा के नेतृत्व में नई सरकार के गठन के बाद राहत की खबर है। पिछले पांच महीने से राज्य में यूनाइटेड नगा काउंसिल (यूएनसी) के आह्वान पर जारी आर्थिक नाकाबंदी रविवार मध्य रात्रि से खत्म हो जाएगी। केंद्र, राज्य सरकार और नगा समूहों के बीच बातचीत के बाद यह सहमति बनी। इबोबी सिंह के नेतृत्व में पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा सात नए जिले बनाने के विरोध में यूएनसी ने एक नवंबर से आर्थिक नाकाबंदी लागू किया था। सेनापति जिला मुख्यालय में त्रिपक्षीय बातचीत के बाद नाकाबंदी खत्म करने को लेकर संयुक्त बयान जारी किया गया। इसमें कहा गया है कि यूएनसी के गिरफ्तार नेताओं को बिना शर्त रिहा किया जाएगा। इसके अलावा आर्थिक नाकाबंदी को लेकर नगा जनजाति नेताओं और छात्र नेताओं के खिलाफ मुकदमे वापस लिए जाएंगे। राजनीतिक स्तर पर त्रिपक्षीय वार्ता का अगला दौर एक महीने के भीतर होगा।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close