NORTHEAST

सिक्किम – पूर्व मुख्यमंत्री नर बहादुर भंडारी का निधन

गंगटोक

तीन बार सिक्किम की सत्ता संभालने वाले पूर्व मुख्यमंत्री नर बहादुर भंडारी का आज निधन हो गया| लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे भंडारी ने आज शाम नई दिल्ली में अंतिम सांस ली| वे अपने पीछे पत्नी तथा पूर्व लोकसभा सांसद दिल कुमारी भंडारी इर दो बेटियां तथा एक बेटा छोड़ गए हैं|

5 अक्टूबर 1940 में वेस्ट सिक्किम के मलबसेय सोरेंग में जन्में नर बहादुर भंडारी जनता परिषद की टिकट पर चुनाव जीतकर पहली बार 1979 में राज्य के मुख्यमंत्री बने थे| 1984 और 1989 में सिक्किम संग्राम परिषद की टिकट पर चुनाव लड़कर वे पुनः प्रदेश के मुख्यमंत्री बने| भंडारी सिक्किम संग्राम परिषद के संस्थापक थे और मृत्यु के समय तक परिषद के अध्यक्ष रहे|

सक्रिय राजनीति में आने से पहले नर बहादुर भंडारी सरकारी स्कूल में शिक्षक थे| एल.डी काजी के बाद भंडारी प्रदेश के दूसरे मुख्यमंत्री हुए जिन्होंने नए राज्य की बागडोर संभाली| 1975 में सिक्किम औपचारिक रूप से भारत का हिस्सा बना|

भंडारी सिक्किम प्रदेश कांग्रेस कमिटी के भी पूर्व अध्यक्ष रहे थे|

मुख्यमंत्री पवन चामलिंग ने भंडारी की मृत्यु पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, “मुझे नर बहादुर भंडारी की अचानक मृत्यु के समाचार से बहुत दुःख हुआ है| भंडारी के निधन से सिक्किम ने अपनी एक ऐसी संतान खोई है जिसने प्रदेश और यहाँ की जनता के लिए काफी कुछ किया है|

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close