SPECIAL

जब लोगों ने “अप्रैल फूल” नहीं “अप्रैल कूल” मनाया- पढ़िए पूरी रिपोर्ट

 

गुवाहाटी 

NESamachar  की टीम ने अपने पाठकों से एक अलग और अनोखे  तरीके से “अप्रैल फूल” को “अप्रैल कूल” के रूप में मनाने का ग्रह किया था. टीम द्वारा वृक्षारोपण के लिए अभियान चलाया गया था और हर किसी को एक पेड़ लगाने और वृक्ष के साथ एक सेल्फी  NESamachar न्यूज़  डेस्क को भेजने का आग्रह किया गया था.

कहावत है कि  बूँद बूँद से सागर भरता है, NESamachar की  अपील को कुछ लोगों ने माना और  विर्क्ष लगा कर अपने सेल्फी हमें भेजा.

बता दें की NESamachar पूर्वोत्तर का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल है जिसे करीब 3 वर्ष पहले  शुरू किया गया था और अब यह डिजिटल  और वेब न्यूज़  की दुनिया में  दुनिया  भर में अपनी एक पहचना रखता है.  ENLIGHTEN MEDIA ग्रुप का और भी दोसरे न्यूज़ पोर्टल हैं  http://www.arunachal24.in, www.northeastindia24.com

 

 

 

  

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

गुवाहाटी 

NESamachar  की टीम ने अपने पाठकों से एक अलग और अनोखे  तरीके से “अप्रैल फूल” मनाने का आग्रह किया था. टीम द्वारा वृक्षारोपण के लिए अभियान चलाया गया था और हर किसी को एक पेड़ लगाने और वृक्ष के साथ एक सेल्फी  NESamachar न्यूज़  डेस्क को भेजने का आग्रह किया गया था.

कहावत है कि  बूँद बूँद से सागर भरता है, NESamachar की  अपील को कुछ लोगों ने माना और  विर्क्ष लगा कर अपने सेल्फी हमें भेजा.

बता दें की NESamachar पूर्वोत्तर का पहला हिन्दी न्यूज़ पोर्टल है जिसे करीब 3 वर्ष पहले  शुरू किया गया था और अब यह डिजिटल  और वेब न्यूज़  की दुनिया में  दुनिया  भर में अपनी एक पहचना रखता है.  ENLIGHTEN MEDIA ग्रुप का और भी दोसरे न्यूज़ पोर्टल हैं  http://www.arunachal24.in, www.northeastindia24.com

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close