चीन के बेईपेनजियांग घाटी पर बना दुनिया का का सबसे ऊंचा पुल

बीजिंग

चीन के बेईपेनजियांग घाटी पर बना ही दुनिया का का सबसे ऊंचा पुल I चीन में दो दिन पहले निझू नदी घाटी के ऊपर बने 565 मीटर ऊंचे पुल का उद्घाटन हुआ जो दक्षिणी प्रांतों युन्नान और गुईझू को जोड़ती है। सूत्रों के मुताबिक, 1,341 मीटर लंबे बेईपेनजियांग पुल का निर्माण 2013 में शुरू हुआ था और सितंबर में इसका निर्माण पूरा हो गया।

पुल के निर्माण में 1,000 से ज्यादा इंजीनियर और तकनीशियन लगाए गए थे। इसकी निर्माण लागत एक अरब युआन (14.4 करोड़ डॉलर) है।

बेईपेनजियांग घाटी में स्थित इस पुल के बारे में गुईझो प्रांत के परिवहन विभाग ने बताया कि पुल का डेक और धरती या इसकी सतह के नीचे पानी के बीच की दूरी 200 मंजिला इमारत जितनी है। यह पुल राजमार्ग का हिस्सा है जो झेजियांग की राजधानी हांगझू और युन्नान के रुइली को जोड़ती है।

इससे पहले मध्य चीन के हूबेई प्रांत में बना सी डू रिवर ब्रिज दुनिया का सबसे ऊंचा पुल हुआ करता था, लेकिन अब बेइपानजियांग पुल दुनिया में सबसे ऊंचा पुल हो गया है।

गौरतलब है कि ऊंचे पुलों के अलावा चीन में अनूठे और कई पु हैं, जिनमें से एक वह कांच का पुल है, जिसका नाम ‘द हाओहान कियाओ’ (The Haohan Qiao) या ‘बहादुर मर्दों का पुल’ रखा गया है। यह पुल चीन के हुनान प्रांत में एक ऐसी खाई पर बनाया गया है, जिसकी 180 मीटर की गहराई वैसे ही दिल दहला देती है, लेकिन इस पुल को पार करने के लिए ‘दिलेर’ होना इसकी ऊंचाई की वजह से ज़रूरी नहीं है, बल्कि इसकी एक और विशेषता की वजह से ज़रूरी है। दरअसल, इस पुल का फर्श, जो 300 मीटर लम्बा है, पूरी तरह कांच का बना हुआ है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: