बनारस में भगदड़ की हो न्यायिक जांच – सीएम अखिलेश यादव

बनारस

बाबा जय गुरुदेव की जयंती पर बनारस में बड़े आयोजन के दौरान ही भगदड़ में कल 24 लोग मारे गए| सीएम अखिलेश यादव ने मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए है| साथ ही मृतकों के परिवार के लिए 5 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा की है|

दरअसल 20 साल बाद बाबा जय गुरुदेव की जयंती पर बनारस में बड़े प्रोग्राम का आयोजन हो रहा था। इसमें मांस और शराब के खिलाफ शोभायात्रा निकाली गई। प्रशासन से आयोजकों ने शोभायात्रा में करीब तीन हजार लोगों की मंजूरी ली थी, लेकिन 5 लाख के करीब भक्त वहां पहुँच गए।

शोभायात्रा में सुबह 9 बजे से अनुयायी डोमरी से जत्थों के रूप में निकले। राजघाट पुल से होकर ये जत्थे शहर में दाखिल हुए। रैली में पैदल चलने वाले लोगों के अलावा कार-जीप-बाइक भी शामिल थीं। एक तरफ से गाड़ियां जा रही थीं तो दूसरी ओर से भीड़ पुल पर चढ़ रही थी। पौने एक बजे के करीब 15 हजार लोग पुल पर मौजूद थे, तभी गर्मी और प्यास की वजह से कुछ लोगों को चक्कर आने लगे थे। इसी दौरान इस डबल डेकर पुल से एक ट्रेन गुजरी तो पुल हिला और डर के मारे भगदड़ मच गई। कई लोग कुचले गए।

कार्यक्रम में भीड़ ऐसी थी कि हादसे के 3 घंटे बाद भी राहत के लिए आए अधिकारी घटनास्थल पर नहीं पहुंच पा रहे थे| आपको बता दे कि बनारस और मुगलसराय को जोड़ने वाला ये इकलौता पुल आगे नेशनल हाईवे से जुड़ता है। इस वजह से यहां ट्रैफिक नहीं रोका जा सकता जिससे हालात ज्यादा बेकाबू हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: