कोलकाता में निर्माणाधीन फ्लाइओवर गिरने से 10 मजदूरों की मौत

कोलकाता

उत्तरी कोलकाता के गणेश टॉकीज के पास एक निर्माणाधीन फ्लाइओवर का हिस्सा गिरने से 10 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई। विवेकानंद फ्लाइओवर का निर्माण कोलकाता के गिरीश पार्क इलाके में किया जा रहा था।

करीब 40 से 50 लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया है। मलबे में कुछ और मजदूरों के दबे होने की आशंका है। मौके पर राहत-बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। मलबे से लोगों को निकाला जा रहा है। माना जा रहा है कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। मलबे में और कितने लोग दबे हुए इसका पता अबतक नहीं चल पाया है। बताया जा रहा है कि मलबे में 150 से ज्यादा लोग दबे हो सकते हैं।

FLYOVER----6
Photos provided by : Sajjan Agarwal and Pitram Kedia

चश्मदीद का कहना है कि इस फ्लाईओवर के नीचे करीब 150 लोग दबे हुए हैं। यह बहुत ही घना बसा हुआ इलाका है, जिसकी वजह से राहत और बचाव कार्य में थोड़ी दिक्कत भी आ रही है। सेना भी बचाव कार्य में लगी हुई है। तस्वीरें बयान कर रही है कि यह हादसा कितना बड़ा है। एनडीआरएफ की दो टीमें कोलकाता रवाना हो गई हैं। मुख्य सचिव और गृहसचिव मौके पर मौजूद हैं।

पुल गिरने की वजह से पूरा यातायात ठप हो गया है। ये हादसा कैसे हुआ इसकी अभी कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। बताया जा रहा है बुधवार को ही पुल की ढलाई की गई थी और आज ही ये हादसा हो गया है। हैरानी की बात यह है कि 7 साल से बन रहे पुल का 25 फीसदी काम भी पूरा नहीं हो सका था।

फ्लाईओवर के मलबे के नीचे बहुत से यात्री, वाहन, ट्रक और रिक्शा दब गये हैं, हालांकि अभी वास्तव में यह पता नहीं चल सका है कि इसके नीचे कितने लोग फंसे हुये हैं। पुलिस, अग्निशमन और आपदा बचाव दल के कर्मचारी दुर्घटनास्थल पर पहुंच गये हैं और बचाव काम शुरू कर दिया है। मलबे को हटाने के लिए क्रेन लगायी गयी है। दुर्घटना में घायल व्यक्तियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्रधान मंत्री ने ली खबर :

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने  निर्माणाधीन फ्लाईओवर के ढहने के बाद वहां की स्थिति और बचाव  कार्यों की जानकारी ली। प्रधानमंत्री ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि, “कोलकाता में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने से स्‍तब्‍ध और दु:खी हूं। मैंने वहां की स्थिति और बचाव कार्य का जायजा लिया हूँ । कोलकाता में मारे गए लोगों के परिजनों के साथ मेरी संवेदना है। कामना करता हूं कि घायल जल्‍द स्‍वस्‍थ हों।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: