NORTHEAST

तेजपुर- दुर्घटनाग्रस्त एसयू-30 के पायलटों की गंभीर चोटों से हुई मौत

तेजपुर

By Nathmal Tibrewal

भारतीय वायुसेना के सूत्रों का कहना है कि दुर्घटनाग्रस्त सुखोई एसयू -30 लड़ाकू जेट के दोनों पायलटों की मौत गंभीर घातक चोटों की वजह से हुई| दुर्घटना से पहले दोनों पायलट विमान से इजेक्शन नहीं कर पाए जिस वजह से उनकी मौत हो गई|

सूत्रों ने बताया कि विमान एसयूआर -30, 23 मई 2017 को तेजपुर एयरबेस से 60 किलोमीटर की दूरी पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था| इस दुर्घटना में Sqn Ldr  डी. पंकज और Flt Lt  एस. अचुदेव की मौत हो गई थी|

विमान के फ्लाईट डाटा रिकॉर्डर के विश्लेषण और क्रैश साइट से मिली कुछ चीजों से पता चला है कि पायलट्स दुर्घटना से पहले इजेक्शन नहीं कर पाए थे । इलाके में लगातार खोज अभियान के बाद विमान का मलबा 26 मई को मिला था।

बीते 23 मई को एसयू -30 विमान ने सुबह करीब 10.30 बजे उड़ान भरी थी और रडार से दूर हो गया था| इसके करीब एक घंटे बाद 11.10 बजे के आसपास विमान का रेडियो संपर्क खो गया| उस दौरान यह विमान तेजपुर एयर बेस के 60 किलोमीटर के आसपास था। यह विमान नियमित प्रशिक्षण मिशन पर था।

विमान और पायलटों की खोज के लिए खोज और बचाव अभियान चलाए गए। विमान का पता लगाने के लिए नागरिक प्रशासन और सैन्य अधिकारियों से सहायता मांगी गई। एसयू -30 की अंतिम ज्ञात स्थिति के आधार पर हवाई खोज शुरू की गई थी। लगातार बारिश, घने बादल और दुर्गम इलाके ने आसमान और जमीन पर खोज अभियान को बाधित किया।

इस बीच दुर्घटना के कारणों की जांच के आदेश दिए गए है।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close