सीरिया युद्ध में फ्रांस के हस्तक्षेप का बदला- आतंकी

पेरिस पेरिस में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी तो पहले ही आतंकी संगठन आईएसआईएस ले चुका है, लेकिन अब यह खुलासा हुआ है कि सीरिया युद्ध में फ्रांस के दखल देने का बदला लेने की मंशा से ही यह हमले किए गए थे. पेरिस हमले के एक चश्मदीद ने सुरक्षा एजेंसियों को बताया कि एक हमलावर सीरिया में फ्रांस की सैन्य कार्रवाई को दोषी ठहराते हुए इस हमले को न्योजित बताया था.

पेरिस हमले को अपनी आंखों से देखने वाले रेडियो प्रस्तोता पियरे जानास्जाक ने कहा कि ‘मैंने उन्हें साफ तौर पर यह कहते सुना था कि यह सब फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद का दोष है, यह तुम्हारे राष्ट्रपति का दोष है, उन्हें सीरिया में दखल नहीं करना चाहिए था’.

जानास्जाक के मुताबिक हमलावर इराक के बारे में बोल रहा था. हमलावर ने अपने इस जघन्य कृत्य को न्यायोचित ठहराने के लिए सीरिया के युद्ध में फ्रांस के हस्तक्षेप का बार बार जिक्र कर रहा था. जानास्जाक हमले के समय कंसर्ट परिसर में मौजूद थे. यहां आतंकी हमले में करीब 100 लोग मारे गए हैं। इन हमलों में अब तक 160 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि सभी आठ आतंकवादी मारे जा चुके हैं. यह गत एक वर्ष में फ्रांस पर लगातार चौथा अमरीकी हमला है.

पेरिस में इन 6 जगहों पर हमले हुए

Many Dead After Multiple Shootings In Paris1) बैटाक्लॉन में पहला धमाका हुआ जहां 100 लोगों के मरने की खबर है. यहां 7 की हालत गंभीर है जबकि 4 घायल हैं.

2) रु चेरौन में हुए हमले में 19 मरे. यहां 13 की गंभीर हालत है जबकि 10 घायल हैं.

3) रु बिचाट में 14 मरे, 10 गंभीर और 10 घायल हैं.

4) एवेन्यू डे ला रिपब्लिक में 4 की मौत, 11 गंभीर और 10 घायल हैं.

5) स्टेड डे फ्रांस हमले में 4 की मौत, 11 गंभीर रुप से घायल और 39 घायल.

6) रु ब्यूमार्चिस में 3 गंभीर और 4 घायल हुए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: