सब्जी के बाद दुग्ध उत्पादन में भी आत्मनिर्भर बनेगा सिक्किम- सीएम चामलिंग

गंगटोक

देश का छोटा सा पहाड़ी सिक्किम बड़े बड़े राज्यों के लिए मिसाल बनता जा रहा हैI सब्जी उत्पादन में आत्मनिर्भर बनने की बाद अब सिक्किम दुग्ध उत्पादन में भी आत्म निर्भर बनने की ओर पहल करेगा, इस की घोषणा खुद मुख्यमंत्री पवन चामलिंग ने की है I

यह बातें मुख्यमंत्री ने शहर के डेवलपमेंट एरिया जीवन थिंग मार्ग स्थित मनन केंद्र में श्वेत क्रांति के जनक कहे जाने वाले डा वर्घिस कुरियन की जयंती के अवसर पर नेशनल मिल्क डे के रूप में मनाया गया एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा  I

सीएम ने कहा कि सिक्किम को दुग्ध उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने के बाद दुग्ध निर्यात की दिशा में कार्य किया जाएगा। इस निर्णय के पीछे चामलिंग ने राज्य को पूर्ण रूप से जैविक खेती राज्य होने का हवाला दिया।  जिससे राज्य में अन्य राज्यों से आने वाले मवेशियों की बिक्री पर भी रोक लग सके। इस कार्य के लिए सिक्किम में गोपालन को और भी व्यापक बनाया जाएगा।

जैविक खेती व्यवस्था होने के कारण राज्य में दूध की मांग भी बहुत है। सीएम ने इस कार्य के लिए राज्य के किसानों और मवेशी पालकों को सहकारी समितियों के माध्यम से उत्पादन क्षमता बढ़ाने का सुझाव दिया। चामलिंग ने किसान सहकारी सोसाइटी तथा उपभोक्ता सहकारी समिति भी खोलने का सुझाव दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: