अलग बोड़ोलैंड की मांग, बोड़ो महिलाओं ने किया राष्ट्रीय राजमार्ग का अवरोध

काजलगाँव

बीटीएडी इलाके में रहने वाली बोड़ो महिलाओं ने अलग बोड़ोलैंड की मांग में सोमवार को काजलगाँव के एनएच – 31 और एनएच – 15 का अवरोध किया|

इस दौरान वहां जमा भीड़ को संबोधित करते हुए आब्सू के अध्यक्ष प्रमोद बोड़ो ने कहा कि विभिन्न बोड़ो संगठनों का आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार अलग बोड़ोलैंड के मुद्दे को हमेशा के लिए नहीं सुलझा लेती| बोड़ोलैंड राज्य गठन के नाम पर अब तक 5000 बोड़ो लोगों ने अपनी जान गंवाई हैं| अब इस मुद्दे को सुलझाने का वक्त है चूँकि बोड़ोलैंड मुद्दे को सुलझाने के मुद्दे को लेकर ही बीजेपी सत्ता में आई थी|

गौरतलब है कि बोड़ोलैंड मुद्दे पर 26 अप्रैल 2017 को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में बोड़ोलैंड राजनीतिक त्रिपक्षीय वार्ता का आयोजन किया गया था| बीएसयू समेत अन्य संगठनों ने इस वार्ता में हिस्सा लिया था|

इस बीच बोड़ो महिलाओं ने भी क्षेत्र में शांति बहाली और चहुमुखी विकास के लिए लंबित बोड़ोलैंड मसले को जल्द से जल्द सुलझाने की मांग की है| बोड़ो महिलाएं अपनी संस्कृति और अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: