सुरक्षा बलों का अभियान, केपीएलटी को बड़ा झटका

कार्बी आंगलांग

उग्रवादियों के खिलाफ असम पुलिस, सेना और सुरक्षा बलों का लगातार अभियान मध्य असम में सक्रीय केपीएलटी के लिए एक बड़ा झटका साबित हुआ है|

सूत्रों के मुताबिक इस साल कार्बी पीपुल्स लिबरेशन टाइगर यानी केपीएलटी के 5 उग्रवादी मारे गए है जबकि 32 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है| इनमें से संगठन के स्वयंभू सुरक्षा सचिव चिंगएंग्री क्रोंग्जंग को मारकर सुरक्षा बलों ने एक बड़ी कामयाबी हासिल की है| इसके अलावा सुरक्षा बलों ने संगठन के सेनाध्यक्ष मोसेस तेरांग को भी गिरफ्तार कर लिया है|

पहले कार्बी लोंगरी नॉर्थ कछार हिल्स लिबरेशन फ्रंट के वार्ता विरोधी गुट के नाम से जाने जाने वाले केपीएलटी का गठन 8 जनवरी 2011 में हुआ था| कार्बी लोंगरी नॉर्थ कछार हिल्स लिबरेशन फ्रंट के ही 25 सदस्यों को लेकर केपीएलटी का गठन हुआ| बाद में इसमें और सदस्य जुड़ते चले गए| राज्य के लिए यह उग्रवादी संगठन भी एक बड़ी चुनौती बनकर उभरा है| यह संगठन ह्त्या, फिरौती के नाम पर अपहरण, धन वसूली आदि विभिन्न गतिविधियों से जुड़ा हुआ है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: