1996 में अदाज्य के बाद सांत्वना बरदोलोई की दूसरी फिल्म माज राती केतेकी

गुवाहाटी

1996 में फिल्म अदाज्य का निर्माण करने के बाद असमिया फिल्म निर्माता सांत्वना बरदोलोई अपनी दूसरी फिल्म ‘माज राती केतेकी’ लेकर दर्शकों के सामने आ रही है| 1996 में बनी फिल्म अदाज्य लिए उन्हें भारत में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और स्पेशल जूरी अवार्ड से नवाजा गया था| पेशे से paediatrician  सांत्वना बरदोलोई अपनी पहली फिल्म के लिए इतना बड़ा सम्मान हासिल करने के बावजूद दो दशकों तक फिल्म निर्माण से दूर रही|

midnightketeki-2दो दशक बाद उन्होंने अपनी दूसरी फिल्म ‘माज राती केतेकी’ बनाने का निर्णय लिया जो कि 21 वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ केरला में इंटरनेशनल कम्पटीशन केटेगरी में प्रदर्शित होगी|

सांत्वना का कहना ही कि इन दो दशकों में वे खाली नहीं बैठी| मेडिकल प्रैक्टिस के साथ ही फिल्म बनाने के लिए नए-नए विषयों पर सोचती रही| उन्होंने कहा, “मैंने रातभर में इस फिल्म की स्क्रिप्ट नहीं लिखी है क्योंकि मैं किसी संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त फिल्म निर्माता नहीं हूँ| कोई परिस्थिति या कोई विषय ऐसा चाहिए जो मुझे फिल्म निर्माण के लिए प्रोत्साहित करे|”

फिल्म ‘माज राती केतेकी’ एक लेखक पर आधारित है जो उसी शहर में वापस आता है जहाँ उसे किसी समय अपनी यात्रा शुरू करने की प्रेरणा मिली थी| फिल्म में आदिल हुसैन मुख्य किरदार निभा रहे है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: