राज्यसभा चुनाव, कांग्रेस के दोनों उम्मीदवार जीते

गुवाहाटी

राज्यसभा चुनाव में इस बार निर्दलीय उम्मीदवार प्रसिद्ध व्यवसायी महावीर जैन की जीत की अटकलों के बीच ही आज एक नाटकीय मोड़ के साथ कांग्रेस के दोनों उम्मीदवार राज्यसभा के लिए चुन लिए गए। कांग्रेस के प्रथम पसंदीदा उम्मीदवार रिपुन बोरा को 38 वोट जबकि दूसरी पसंदीदा उम्मीदवार रानी नरह को 47 वोट हासिल हुए। चुनाव में कुल 86 वोट डाले गए जिनमें से एक वोट खारिज हो गया। इस तरह कुल बचे 85 वोट कांग्रेस की झोली में आ गए जबकि महावीर जैन को एक भी वोट नहीं मिला।

बीपीएफ के समर्थित उम्मीदवार महावीर जैन की मुश्किलें उस वक्त बढ़ गई जब वोटिंग से पहले बीपीएफ ने उनपर कांग्रेस के साथ लेन-देन का आरोप लगाते हुए अपना समर्थन वापस ले लिया। बीपीएफ प्रमुख ने आरोप लगाया कि महावीर जैन ने दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की। कांग्रेस के साथ गुप्त लेन-देन का आरोप लगाते हुए हग्रामा मोहिलारी ने बीपीएफ की गठबंधन पार्टी बीजेपी से भी वोट बहिष्कार का आह्वान किया। बीपीएफ के आह्वान पर बीजेपी ने भी राज्यसभा में वोटिंग नहीं की।

वहीँ एआईयूडीएफ ने भी वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया। हालांकि एआईयूडीएफ के 5 विधायक वोट डालने पहुंचे। इन विधायकों का कहना था कि पार्टी से उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई जिस वजह से उन्होंने वोट किया। ये विधायक एआईयूडीएफ के टिकट से वंचित थे और इनका कहना था कि पार्टी ने उन्हें वंचित किया इसलिए जवाब में उन्होंने पार्टी को वंचित किया।

कुल मिलकर बीपीएफ, बीजेपी और एआईयूडीएफ के वोट से वंचित होकर महावीर जैन को राज्यसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: