राहुल की पदयात्रा और जनसभा में उमड़ा जनसैलाब

शिवसागर

असम विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की नैया पार लगाने के उद्देश्य से असम दौरे पर आए एआईसीसी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज शिवसागर में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया, और 6 किलोमीटर लम्बी पदयात्रा में भाग लिया।राहुल की पदयात्रा और जनसभा में उमड़ा जनसैलाब  को देख कर लगने लगा की अभी असम में कांग्रेस कमज़ोर नहीं हुई है।

जनसभा को सम्बोधित करते हुए राहुल गांधी ने कांग्रेस की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि 15 साल पहले जब भी असम की बात आती थी उसे हीन भाव से देखा जाता था। लेकिन आज यहाँ कांग्रेस के शासन में शांति, सद्भाव का माहौल है। हिंसा के खिलाफ ये तरुण गोगोई सरकार की लड़ाई का ही नतीजा है। तरुण गोगोई की सरकार ने 15 इंजीनियरिंग कॉलेज स्थापित किए और विभिन्न क्षेत्रों में छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया।

Rahul Assam Rally

इस दौरान वे बीजेपी और खास तौर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते नज़र आए। उन्होंने कहा कि मोदी ने असम की जनता को हमेशा झूठे प्रलोभन दिए है। हम असम के युवाओं को शक्ति देना चाहते है। राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सूट पर भी कटाक्ष करने से नहीं चूके। उन्होंने कहा कि 15 लाख रुपए हर हिंदुस्तानी को मिलना चाहिए था लेकिन मोदी खुद 15 लाख का सूट पहनकर घूम रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी ने नागालैंड समझौते पर हस्ताक्षर राज्य की सरकार की जानकारी के बगैर ली।

उन्होंने कहा “हम शंकरदेव और अजान फकीर के आदर्शों पर चलते है। असम के इतिहास का हमें ध्यान है इसलिए असम की जनता को यह तय करना होगा कि वो क्या चाहती है।”

दरबार फील्ड में जनसभा को संबोधित करने से पहले राहुल गांधी ने कांग्रेस नेताओं और बड़ी संख्या में लोगों के साथ पदयात्रा की। रंगघर चारियाली से दरबार फील्ड तक राहुल ने 6 किलोमीटर रास्ता पदयात्रा से तय की। इसी दौरान वे अन्य कार्यक्रमों में भी हिस्सा लेते रहे। उन्होंने छात्र-छात्राओं से भी बातचीत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: