पुण्यधाम यात्रा का शुभारंभ, 82 यात्रियों की पहली खेप रवाना

गुवाहाटी

असम के वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई पुण्यधाम यात्रा का विधिवत शुभारंभ करते हुए 82 यात्रियों की एक टोली को राज्य से विदा किया गया है| पर्यटन मंत्री डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने गुरुवार को फ्लैग-ऑफ कर इन यात्रियों को गुवाहाटी रेलवे स्टेशन से विदा किया|

यात्रियों को विदा करने के बाद पत्रकारों से हुई बातचीत में मंत्री शर्मा ने बताया कि पुण्यधाम यात्रा की यह शुरुआत है| इस साल सरकार की योजना 3 से 4 हजार बुजुर्गों को निःशुल्क तीर्थयात्रा में भेजने का है| पहली बार 82 यात्री जा रहे हैं| प्रत्येक तीर्थयात्रियों को प्रति दिन सरकार की ओर से खाने-पीने के लिए 150 रुपए दिए जाएंगे| गंतव्य तक पहुँचने के बाद वहां ठहरने व खाने की व्यवस्था असम पर्यटन विकास निगम की ओर से निःशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी| 8 दिवसीय यात्रा में तीन दिन तक यात्रियों को वहां ठहराया जाएगा|

राज्य के वरिष्ठ नागरिकों को सरकारी खर्च पर पुण्यधाम यात्रा के लिए ले जाया जा रहा है तथा पर्यटन विभाग की इस योजना के तहत जगन्नाथ-पुरी, मथुरा-वृंदावन, वैष्णोदेवी और अजमेर-शरीफ दरगाह के पवित्र दर्शन कराए जाएंगे| अगले साल की 28 फरवरी तक लागू रहने वाली इस योजना में 60 से 75 वर्षीय पुरुष और 55 से 60 वर्ष तक की महिला वरिष्ठ नागरिक भाग ले सकेंगी तथा गुवाहाटी से आने-जाने का सारा खर्च सरकार देगी|

इस यात्रा में भाग लेने के इच्छुक वरिष्ठ नागरिकों को असम पर्यटन विकास निगम (एटीडीसी) में आवेदन जमा करवाना होता है| आवेदन की प्रक्रिया 5 अगस्त से शुरू होकर 31 अगस्त को समाप्त हुई थी तथा सितंबर महीने में चयनित यात्रियों की 100 सदस्यों की पहली सूची जारी की गई थी, जिनमें से 82 ही यात्रा पर निकल पाए|

82 यात्रियों की इस टोली को राजधानी एक्सप्रेस के थ्री-टायर एसी ट्रेन और एसी बस के जरिए गंतव्यस्थल तक पहुँचाया जाएगा| एक परिवार से अधिकतम दो वरिष्ठ नागरिकों को इस यात्रा में जाने का मौका दिया गया है| साथ ही उनकी देखरेख करने के लिए किसी परिचित कुल 3 व्यक्ति को गाइड के तौर पर सरकारी खर्च पर भेजा जाता है, जिसे प्रतिदिन 500 रुपये दिए जाते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: