NATIONAL

‘सुषमा स्वराज जी का निधन मेरे लिए निजी क्षति है’-  पीएम मोदी

पी एम मोदी ने अपने  ट्वीट में लिखा, ‘सुषमा जी का निधन मेरे लिए निजी क्षति है। भारत के लिए उन्होंने जो किया, उसके लिए वह याद रखीं जाएंगी। इस दुर्भाग्यपूर्ण घड़ी में मेरी उनके परिवार, समर्थकों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’ 


नई दिल्ली

पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज के असामयिक निधन पर श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है। जंतर मंतर स्थित आवास पर उनको श्रद्धांजलि देने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो गए। डबडबाई आंखों के साथ उन्होंने सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी और परिवारीजनों को सांत्वना दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर शोक जताते हुए इसे अपनी निजी क्षति बताया है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही भारतीय राजनीति का एक गौरवशाली अध्याय समाप्त हो गया है। पीएम ने सुषमा को प्रखर वक्ता और उत्कृष्ट सांसद बताया। प्रधानमंत्री ने कहा कि सुषमा स्वराज देश के लिए किए गए अपने काम के लिए हमेशा याद रखीं जाएंगी।

विदेश मंत्री के रूप में सुषमा स्वराज का पीएम मोदी के साथ तालमेल बहुत ही अच्छा रहा है। पहले कार्यकाल के दौरान पीएम मोदी के विदेश दौरे को सफल बनाने के पीछे सुषमा स्वराज का बड़ा योगदान रहा। जहां-जहां पीएम मोदी ने विदेश यात्राएं की उनसे पहले सुषमा स्वराज ने वहां पहुंचकर दौरे को सफल बनाने की जमीन तैयार की थी।

प्रधानमंत्री मोदी ने सुषमा स्वराज को एक शानदार प्रशासक के रूप में याद किया। उन्होंने लिखा, ‘एक शानदार प्रशासक सुषमा जी ने जिन भी मंत्रालयों को संभाला, वहां उच्च मानक स्थापित किए। तमाम देशों के साथ भारत के रिश्तों को बेहतर बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई। मंत्री के तौर पर हमने उनका दयालु रूप भी देखा, दुनिया के किसी भी कोने में फंसे भारतीयों की वह मदद करती थीं।’

पीएम मोदी ने अपनी पूर्व कैबिनेट सहयोगी के कार्यकाल को याद करते हुए लिखा, ‘मैं यह नहीं भूल सकता कि सुषमाजी ने विदेश मंत्री के तौर पर पिछले 5 सालों में किस तरह बिना थके काम किया। यहां तक कि जब उनकी सेहत ठीक नहीं थी, तब भी उन्होंने अपने काम के प्रति न्याय के लिए हर संभव काम किया और अपनी मंत्रालय के बारे में अप टु डेट रहती थीं। उनकी भावना और प्रतिबद्धता अद्वितीय थी।’

प्रधानमंत्री मोदी ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘सुषम जी का निधन मेरे लिए निजी क्षति है। भारत के लिए उन्होंने जो किया, उसके लिए वह याद रखीं जाएंगी। इस दुर्भाग्यपूर्ण घड़ी में मेरी उनके परिवार, समर्थकों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close