तेल,गैस क्षेत्र में हड़ताल पर सरकार की पाबंदी

गुवाहाटी

राज्य सरकार ने तेल तथा गैस क्षेत्र से जुड़े अधिकारियों, कर्मचारियों, ठेका श्रमिकों, टैंकर चालक एवं खलासियों के किसी भी हड़ताल में शामिल होने पर पाबंदी लगा दी है| Essential Services Maintenance(Assam) Act, 1980 के तहत यह पाबंदी 6 महीने तक लगाई गई है|

तेल तथा गैस क्षेत्र में तेल या गैस क्षेत्र से जुड़ा कोई भी उत्पादन, पेट्रोलियम तथा पेट्रोलियम पदार्थ तथा प्राकृतिक गैस की आपूर्ति या वितरण शामिल है|

जो भी व्यक्ति इस कानून के तहत हड़ताल करता है या किसी भी हड़ताल में शामिल होता है उसके लिए 6 महीने तक की सजा तथा 1000 रुपयों तक का जुर्माना या फिर दोनों सजाओं का प्रावधान है|

मृत्युंजय 108 एम्बुलेंस सेवा को भी Essential Services Maintenance(Assam) Act, 1980 के तहत आपात सेवा घोषित किया गया है| इसी एक्ट के तहत 102-IFT सेवाओं को भी आपात सेवा घोषित किया गया है| इस एक्ट के अंतर्गत 102-IFT सेवा से जुड़े किसी भी कर्मचारी के हड़ताल में शामिल होने पर प्रतिबंध है| 16 अगस्त 2016 को एक अधिसूचना जारी कर यह निर्देश दिया गया है और इस अधिसूचना के जारी होने के 6 महीने तक यह प्रभावी रहेगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: