शिवसागर- गावं वालों ने पहले तेंदुए को पीट पीट कर मार डाला, फिर मांस बाँट कर खा गए.

News desk/nesamachar

शिवसागर- एक तरफ जहां देश में Beef Ban को लेकर उथलपुथल मचा हुआ है वहीं दूसरी ओर लुप्त होते जा रहे जानवरों को मार कर लोग न केवल खा रहे हैं बल्कि पिकनिक मना रहे हैं और वन विभाग खामोश सब कुछ देख रहा है.

घटना शिवसागर जिले के डिमो का है. जहां कुछ दिनों पहले स्थानीय लोगों ने एक तेंदुए को पीट पीट मार डाला और फिर उसका मांस को गाँव वामें बाँट कर बड़े चाव से पकाकर खाए. पूरे गावं वालों उस अवसर पर पिकनिक मनाया.

सोचने वाले बात यह है की जहां बाघों की संरक्षण के लिए पूरे देश में कानून लागु है और  जिसकी हत्या कर ने पर वाइल्डलाइफ एक्ट 1972 के तहत सजा का प्रावधान है  उस के बावजूद गावं वाले वन विभाग के आँख के नीचे एक तेंदुए को पीट पीट कर मार डालते हैं और वन विभाग के अधिकारी आँखें बंद किये बैठे रहते हैं. कोई अधिकारी गावं में पूछ ताछ करने तक की ज़रुरत नहीं समझता है.

लेकिन भले ही वन विभाग आँखें बंद किए सो रहा हो, लेकिन उन्हीं गावं वालों में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो जागरुकत हैं. उन्हों ने तेंदुए की पिटाई के तस्वीरें अपने मोबाइल फ़ोन में उतार ली और उसे सोशल साईट पर अपलोड कर दिया जो खूब वायरल हो रहा है. लेकिन उस से किया वन अधिकारी तो फिर भी चैन से बैठे हैं.

हालांकी यह कोई पहली घटना नहीं है. इस से पहले भी कई बार गावं वालों ने तेंदुए को पहले पहले तो पीट पीट कर मार डालते हैं और फिर उस के मांस आपस में बाँट लेते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: