असम : अत्याधुनिक होगा न्यू -तिनसुकिया-बैंगलोर सिटी एक्सप्रेस का रैक-  पू सी रेलवे  

गुवाहाटी

पूसी  रेलवे ने 22501/22502 न्यू -तिनसुकिया-बैंगलोर सिटी- न्यू तिनसुकिया एक्सप्रेस  के पारंपरिक रैक को अत्याधुनिक  एलएचबी रैक से बदलने  का निर्णय लिया है.  यह ट्रेन  न्यू -तिनसुकिया से एलएचबी रैक संयोजन के साथ 6 अप्रैल से यात्रा शुरू करेगी, जोकि पूसी. रेलवे का 10वॉ पूर्णत: एलएचबी रैक होगा.

एलएचबी (लिंक हॉफमैन बुश ) कोच को जर्मनी के लिंक-हॉफमैन-बुश  द्वारा 160 किमी/घंटा से 200 किमी/घंटा की संचालन गति हेतु विकसित किया गया है.   23.54 मीटर की लंबाई तथा 3.24 मीटर की चौड़ाई द्वारा बेहतर यात्री सुरक्षा तथा आराम के अलावा प्रत्‍येक कोच में अधिक यात्रियों की वहन क्षमता प्रदान करती है.

 एलएचबी कोच स्टील  के बने होते हैं तथा उनका भीतरी भाग एलुमुनियम  का बना होता है जिससे वे परंपरिक रैकों के मुकाबले हल्के होते हैं.   कोच को दूरबीन विरोधी माना जाता है, जिसका मतलब किसी टक्कर  के समय मुड़ते या झटके नहीं देते जिसके परिणाम स्‍वरूप कम लोग हताहत होते हैं.

एलएचबी कोच द्वारा ट्रेन के नए रैक संयोजन में 1 वातानुकूलित 2-टीयर, 4 वातानुकूलित 3-टीयर 14 3-टीयर स्लीपर क्लास  कोच, 2 ब्रेक, लगेज-कम-जेनरेटर कार तथा एक वातानुकूलित हॉट बफर कार है.   बाद में सामान्य  द्वितीय श्रेणी कोचों को भी जोड़ा जाएगा.

यह भी उल्‍लेखनीय है कि पूसी. रेलवे ने पहले ही सभी छोटी दूरी की यात्री गाडि़यों के रैकों को डेमू (डीजल इलेक्ट्रिकल मल्टिपल यूनिट) से परिवर्तित करने का लक्ष्‍य रखा है.   इस हेतु अतरिक्त  रैकों के लिए रेलवे बोर्ड से संपर्क किया गया है तथा पूसी. रेल के सभी मंडलों में डेमू रखरखाव सुविधा विकसित की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: