भारत को नेपाल की चेतावनी

News desk/ nesamachar.in

नेपाल ने रविवार को भारत को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि वह पेट्रोलियम और अन्य जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति में बाधा न डाले। ऐसा जारी रहा तो उसे मजबूर होकर चीन के साथ जाने को विवश होना पड़ेगा।

nepal_mapइस बीच, भारत के राजदूत रंजीत राय नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोइराला से मिले और इस मुद्दे पर चर्चा की। नेपाल के राजदूत दीप कुमार उपाध्याय ने कहा कि इस संबंध में भारत को एक निश्चित समय अवधि तय करनी चाहिए। पाध्याय ने कहा, नेपाल जरूरी सामान की आपूर्ति में आ रही बाधा पर भारत को अपनी चिंताओं से अवगत करा चुका है। उम्मीद है कि नई दिल्ली मामले को जल्द सुलझा लेगा।

नए संविधान का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने भारत के साथ लगी व्यापारिक चौकियों को बंद कर दिया था जिससे सामान से लदे ट्रक देश में प्रवेश नहीं कर पा रहे थे और जरूरी वस्तुओं की कमी हो गई थी।

लेकिन कल कुछ ईंधन टैंकरों समेत माल से लदे कई ट्रक विभिन्न सीमा चौकियों से नेपाल में पहुंचे जो नए संविधान के खिलाफ मधेसी आंदोलन के चलते सुरक्षा कारणों से पिछले ग्यारह दिनों से फंसे हुए थे। कई ट्रकों पर दवाइयां, पेट्रोल, रसोई गैस लदी हैं। 50 से ज्यादा ट्रक भैरवा सुनौली चौकी से रविवार को नेपाल में प्रविष्ट हुए जबकि ईंधन टैंकरों समेत दर्जनों ट्रक बिराटनगर-जोगानी व्यापारिक रास्ते से नेपाल पहुंचे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: