नेडा का प्रथम सम्मेलन संपन्न, पूर्वोत्तर को कांग्रेस मुक्त करने का लिया गया संकल्प

गुवाहाटी

” सिक्किम सहित पूर्वोत्तर के सभी राज्यों को कांग्रेस मुक्त कर देंगे ” यह संकल्प लिया है भाजपा नेत्रित्व वाली नार्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलाईंस ( नेडा ) ने. बता दें की आज गुवाहाटी में नेडा का पहला सम्मलेन सम्पन्न हुआ जिस में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी शामिल हुए.

सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि नेडा के जरिए पूर्वोत्तर के युवाओं के सपने साकार होंगे तथा देश के सभी राज्यों को इसके जरिए जोड़ा जा सकेगा। श्री शाह ने कहा कि पूर्वोत्तर में विकास के तमाम संसाधन हैं।  लेकिन आजादी के बाद से विकास के मामले में इस क्षेत्र को पिछड़ा ही रखा गया। इन संसाधनों के सही इस्तेमाल के जरिए इस क्षेत्र को विकसित करने की जरूरत है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पूर्वोत्तर के पिछड़ेपन के लिए घुसपैठ और अलगावबाद सहित अन्य कई कारण भी हैं। अत: इस क्षेत्र का विकास ही सभी समस्याओं का समाधान निकाल सकता है।

इस मौके पर सम्मेलन को संबोधित करते असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथ मजबूत कर राष्ट्रनिर्माण पर बल देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने विश्‍व में यह साबित कर दिया है कि हम किसी से कम नहीं है। उन्होंने हममें ऊर्जा भर दी है, हमारे आत्मविश्‍वास को अधिक मजबूती दी है। पूर्वोत्तर के प्रति उनको विशेष लगाव है। वे इस क्षेत्र को जैविक हब बनाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए सोनोवाल ने कहा कि उन्होंने पूर्वोत्तर के विकास के लिए जितना कुछ सोच रखा है उनके पहले किसी ने इस तरह से नहीं सोचा था।

मुख्यमंत्री ने नेडा के सफल आयोजन  के लिए इसके संयोजक डा. हिमंत विश्‍व शर्मा सहित पूर्वोत्तर के 8 राज्यों के 11 राजनीतिक दल के तमाम नेताओं के प्रति आभार व्यक्त किया।

नेडा के संयोजक डा. हिमंत विश्‍व शर्मा ने कहा कि गुवाहाटी में नेडा का एक सचिवालय होगा। इसके अलावा दिल्ली में भी नेडा कार्यालय खोला जाएगा ताकि पूर्वोत्तर के सभी सदस्य दल आपस में बैठकें कर सके। अगले दो दिनों में नेडा की घोषणाओं को जारी किया जाएगा। उन्होंने आत्मविश्‍वास भरे लहजे में कहा कि सन 2019 तक इस क्षेत्र से एक भी कांग्रेसी सांसद नहीं रहेंगे, हमें इसे सुनिश्‍चित करना होगा। पूर्वोत्तर से 25 सांसद हैं। हमें यह लक्ष्य निर्धारित करना होगा कि ये सभी 25 सांसद नेडा के ही हों। अगले साल मणिपुर में चुनाव है। नेडा का पहला लक्ष्य वहां से कांग्रेस को उखाड़ फेंकने का होगा।

कार्यक्रम में भाजपा नेता राम माधव, रामलाल, पार्टी के असम प्रभारी महेंद्र सिंह, डोनर मंत्री डा. जितेंद्र सिंह, नगालैंड के मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग, मिजो नेशनल फ्रांट के अध्यक्ष जोरमथांगा, सिक्किम डेमोक्रेटिक फांट (एसडीएफ) के नेता पवन कुमार चामलिंग, मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री डा. डंगकुपर राय, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के अध्यक्ष तथा सांसद कनराड संगमा, अरुणाचल प्रदेश  के मुख्यमंत्री कालिखो पुल, अगप अध्यक्ष अतुल बोरा, बीपीएफ प्रमुख हाग्रामा मोहिलारी और गणशक्ति के डा. रनोज पेगू सहित इन सभी दलों के सांसद, विधायक और वरिष्ठ नेता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: