ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने का मेरा सपना पूरा हो गया- दीपा

गुवाहाटी 

“ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने का मेरा बरसो पुराना सपना पूरा हो गया।” यह कहना है ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली भारत की पहली महिला जिमनास्ट दीपा कर्मकार का। रियो टेस्ट इवेंट में इतिहास रचकर 3 दिन बाद आज सुबह दीपा घर लौटी तो हवाई अड्डे पर उनका भव्य स्वागत हुआ।

दीपा ने कहा ” मैं ओलंपिक्स में भारत की ओर से पदक जीतने की भरपूर कोशिश करुँगी। जब से मैंने जिमनास्टिक शुरू की है हमेशा ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने और देश को गौरवांवित करने का सपना देखा है। पिछले साल नवंबर महीने में वर्ल्ड चैंपियनशिप में मैं अपना यह सपना पूरा नहीं कर पाई। इसलिए मेरा लक्ष्य था किसी भी कीमत पर रियो टेस्ट इवेंट जीतना।”

ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला जिमनास्ट बनने का खिताब हासिल करने के साथ ही दीपा देश की पहली महिला है जो 52 साल बाद भारत की ओर से ओलंपिक्स में हिस्सा लेने जा रही है। देश की आजादी के बाद से 11 भारतीय पुरुष जिमनास्ट ओलिंपिक में हिस्सा ले चुके है (1952 में 2, 1956 में 3 और 1964 में 6) ।

दीपा ने ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने के पीछे पूरा श्रेय अपने कोच  बिशेश्वर नंदी को दिया है। दीपा 6 साल की उम्र से बिशेश्वर नंदी से जिमनास्टिक्स का प्रशिक्षण लेती आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: