मेघालय के विधायक जूलियस डोरफांग गिरफ्तार, नाबालिक से बलात्कार का आरोप

मेघालय

नाबालिक से बलात्कार के आरोप में मेघालय के विधायक जूलियस के. डोरफांग को आज सुबह गुवाहाटी में गिरफ्तार कर लिया गया| आईपीसी की धारा 366(A), प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन ओफ्फेंसस एक्ट और इम्मोरल ट्रैफिकिंग प्रिवेंशन एक्ट के तहत दर्ज मामले के आधार पर डोरफांग को गिरफ्तार किया गया है|

मेघालय के विधायक पर एक 14 साल की नाबालिक लड़की के साथ बलात्कार का आरोप है| मेघालय पुलिस ने फरार चल रहे आरोपी निर्दलीय विधायक को पकड़ने के लिए पड़ोसी राज्यों की पुलिस से मदद मांगी थी| पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने के लिए राज्य के कई जगहों पर छापेमारी भी की| असम में भी उसकी तलाश में राज्य पुलिस ने असम पुलिस के साथ साझा छापेमारी की, लेकिन उसे नहीं ढूंढ पाए| आखिरकार गुवाहाटी से ही आज सुबह डोरफांग को गिरफ्तार कर लिया गया|

डोरफांग एक उग्रवादी संगठन का संस्थापक रह चुका है जिसने 2007 में हथियार डाल दिए थे| हाल ही में उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद से वह फरार चल रहा था| देह व्यापार का यह मामला तब प्रकाश में आया जब एक गेस्ट हाउस के एक कर्मचारी को डोरफांग को पनाह देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया| यह गेस्ट हाउस प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता तथा गृह मंत्री एच.डी.आर लिंगदोह के बेटे का बताया गया है| गेस्ट हाउस के पास से ही पीड़िता को बरामद किया गया और उसे पुलिस थाने लाया गया, जहाँ उसने देह व्यवसाय गिरोह में शामिल सभी लोगों के नाम बताए| पीड़िता की निशानदेही पर अब तक 8 में से 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिनमें 4 महिलाएं है|

4 जनवरी को स्थानीय अदालत ने डोरफांग के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जिसके बाद लगातार उसकी खोज में छापेमारी की गई| इस बीच महिला सामाजिक कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे डोरफांग की कैबिनेट से छुट्टी कर दे ताकि मामले की जांच में पारदर्शिता आए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: