मणिपुर में हिंदी फिल्मों की स्क्रीनिंग पर बैन हटाया जाए – सीएम

इंफाल

मणिपुर के सीएम ओकरम ईबोबी सिंह ने राज्य में हिंदी फिल्मों की स्क्रीनिंग पर लगे बैन को हटाने पर पुनर्विचार करने की अपील की है|

राजधानी शहर के सबसे पुराने सिनेमा हॉल उषा सिनेमा हॉल को पुनः दर्शकों के लिए खोलते हुए ओकरम ईबोबी सिंह ने यह अपील की है| आपको बता दें कि सितंबर 2002 से ही मणिपुर में उग्रवादी संगठन रेवोलुशनरी पीपल्स फ्रंट ने राज्य में हिंदी फिल्मों की स्क्रीनिंग पर प्रतिबंध लगा दिया था|

मुख्यमंत्री ने यह उल्लेख करते हुए कि प्रतिबंध के बावजूद लोगों ने अपने घरों में हिंदी फिल्मों को देखना चालू रखा है इसलिए जनता के हित में इस प्रतिबंध को हटाया जाना चाहिए|

उन्होंने मणिपुर में फिल्मों के माध्यम से अपनी संस्कृति के विकास पर जोर दिया| स्टेट फिल्म पोलिसी को राज्य के लिए एक अच्छी खबर बताते हुए उन्होंने कहा, “पहले भी समाज में बदलाव लाने में मणिपुरी फिल्मों का बड़ा योगदान रहा है| उन्होंने मणिपुर के सांस्कृतिक विरासत को देश के सामने रखने के लिए साउथ इंडियन फिल्मों की तरह अंग्रेजी उपशीर्षक के साथ मणिपुरी फिल्मों के निर्माण पर जोर दिया|

55 साल पुराने उषा सिनेमा हॉल में सन 2012 से ही फिल्मों की स्क्रीनिंग बंद हो गई थी| अब 6 सितंबर से पुनः इस हॉल में सिनेमा दिखाए जाएंगे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: