मालदा हिंसा, बीजेपी की 3 सदसीय टीम हिरासत में लिए गए

जमशेदपुर

झारखंड पश्चिम बंगाल के मालदा के हिंसाग्रस्त और तनावग्रस्त इलाकों का सोमवार दौरा करने पहुंची बीजेपी की 3 सदस्यीय टीम को हिरासत में ले लिया गया है। इनमें दार्जिलिंग से पार्टी सांसद एसएस अहलूवालिया, रिटायर्ड डीजीपी विष्णु दयाल राम और बीजेपी नेता भूपेंद्र यादव शामिल हैं। भारतीय जनता पार्टी ने इस कदम पर कहा कि हमें रोकना मतलब सच को छिपाना है। मालदा रेलवे स्टेशन पर इन तीनों को वहां पहुंचने के चंद मिनट बाद ही हिरासत में ले लिया गया।

मालदा जिला पुलिस ने इन्हें रेलवे स्टेशन से ही लौट जाने को कहा और कालियाचक जाने से रोक दिया। बीजेपी की इस टीम को मालदा स्टेशन से बाहर भी नहीं निकलने दिया गया। कहा गया कि बाहर आने या कलियाचक जाने से कानून-व्यवस्था बिगड़ सकती है। यह बीजेपी की फैक्ट फाइंडिंग टीम है, जो कालिचक घटना का जायजा लिए पहुंची थी।

इससे पहले 6 जनवरी को बीजेपी विधायक शमिक भट्टाचार्य और उनके 10 समर्थकों को भी पुलिस ने मालदा में ही हिरासत में ले लिया था। ये सभी कालियाचक की ओर जा रहे थे। अब बीजेपी की इस तीन सदस्यीय टीम के साथ स्थानीय बीजेपी नेता जॉय बनर्जी और कृशानु मित्रा भी मौजूद थे। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने यह टीम बनाई थी।

उधर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा था  कि राज्य में कोई सांप्रदायिक तनाव नहीं है। उन्होंने मालदा जिले के कालियाचक में हाल में हुई घटना को बीएसएफ और स्थानीय लोगों के बीच झगड़े का नतीजा बताया। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं।

खबर यह भी है कि केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के भी 18 जनवरी को मालदा जिला का दौरा करने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: