सुर्ख़ियों में है शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद का लक्ज़री बस

भोपाल

शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती एक बार फिर चर्चे में हैं I लेकिन इस बार वोह किसी ब्यान को ले कर नहीं बल्की अपनी एक लक्ज़री बस को ले कर सुर्ख़ियों में हैं I दरअसल शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती जी ने एक बस खरीदी है, जिसकी कीमत डेढ़ करोड़ बताई जा रही है। लेकिन वो इस पर लगाए गए 8.5 लाख के टैक्स को नहीं देना चाहते है।

Shankar Charya Swaroopananada
शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती

डेढ़ करोड़ की बस को लेकर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाबूलाल गौर और एक परिवहन विभाग में ठन गई है । जहां प्रदेश के गृह मंत्री बाबूलाल गौर शंकराचार्य की इस लग्जरी बस का टैक्स माफ करवाना चाहते हैं, वहीं  परिवहन विभाग ने टैक्स माफी को लेकर इनकार कर चुका है।

इस टैक्स को देने से शंकराचार्य के इंकार के बाद गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने परिवहन विभाग को पत्र भेजा। शंकराचार्य का तर्क है कि बस का चेचिस 15 लाख रुपए का है , इसलिए उस हिसाब से टैक्स वसूला जाए। लेकिन परिवहन विबाग बस का ऑन रोड टैक्स चाहती है।

इस मामले में परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह का कहना है कि टैक्स माफ करने का अधिकार कैबिनेट को है, इसलिए इस मामले में कैबिनेट का फैसला स्वीकार्य होगा। अब विभाग ने कर माफ करने का प्रस्ताव कैबिनेट को भेज दिया है।

मठ से जुड़े सूत्रों की माने तो डीसी कंपनी से तीन बसें एसेंबल कराई गई है। एक बस शंकराचार्य के गोटेगांव स्थित आश्रम में रहेगी। वहीं एक बस दिल्ली और एक उत्तराखंड में रहेगी। बस के पिछले हिस्से में एक ऑटोमेटिक लिफ्ट लगाई गई है। शंकराचार्य चल नहीं सकते, इसलिए यह सुविधा दी गई है। यह लिफ्ट जमीन से टिकी रहेगी और शंकराचार्य की व्हीलचेयर यहां आकर लग जाएगी।

लिफ्ट अपने आप उन्हें बस में ले जाएगी। इसके अलावा बस में शंकाराचार्य के लिए बिस्तर, टीवी और वॉश रूम की भी व्यवस्था की गई है। बस के आगे और पीछे की तरफ हाई क्वालिटी कैमरे लगाए गए हैं। बताया गया है कि इस कैमरे की मदद से शंकराचार्य 500 मीटर आगे और पीछे क्या चल रहा है, यह देख सकते हैं। इसके लिए एलइडी स्क्रीन बस में लगाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: