चंद्रग्रहण 2018- पूर्वोत्तर भारत में पूरा चंद्रग्रहण दिखाई देगा

गुवाहाटी

माघ शुक्ल पक्ष पूर्णिमा दिन बुधवार 31 जनवरी 2018 को ग्रस्तोदित चंद्रग्रहण लगेगा  जो पूर्वोत्तर भारत में पूरा दिखाई देगा । यह चंद्रग्रहण खग्रास अर्थात पूर्ण चंद्रग्रहण होगा। भारतीय मानक समय के अनुसार 31 जनवरी की शाम को 5 बजकर 18 मिनट पर प्रारंभ होने वाला यह ग्रहण रात्रि 8 बजकर 42 मिनट पर समाप्त होगा। इस तरह ग्रहण की कुल अवधि 3 घंटे 24 मिनट रहेगी।

31 जनवरी को लगने वाला ग्रहण साल का सबसे पहला चंद्रग्रहण होगा। माघ शुक्ल पूर्णिमा के दिन होने वाला यह ग्रहण खग्रास चंद्रग्रहण होगा। यह संपूर्ण भारत में दिखाई देगा। पूर्वी भारत, असम, नागालैंड, मिजोरम, सिक्किम तथा बंगाल के पूर्वी क्षेत्र में ग्रहण प्रारंभ होने के पहले ही चंद्रोदय हो जाएगा। इसलिए इन प्रदेशों  खग्रास रूप में चंद्रग्रहण पूरा दिखाई देगा।

31 जनवरी को सम्पूर्ण भारत में चंद्रग्रहण के दौरान सभी मंदिर सुबह  7.30 सूतक लगने के कारण बंद हो जाएंगे और पूरे दिन बंद ही रहेंगे। चन्द ग्रहण के कारण आप भी ध्यान रखें, जिनके घर में मंदिर में कोई भी भगवान विराजमान हैं, उस दिन वे अपने मंदिर के पट बंद ही रखें।

चंद्रग्रहण के दौरान गायत्री मन्त्र का जाप करें

वैसे तो चंद्रग्रहण राशियों के हिसाब से अलग-अलग प्रभाव डालेगा लेकिन इस दौरान गायत्री मंत्र जाप करते रहने से प्रत्येक राशि के सभी दोषों का निवारण हो जाएगा। इसके अलावा हनुमान चालीसा और हनुमान जी के मंत्रोच्चारण का भी विशेष महत्व है। ग्रहण के नाकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए घर अथवा दफ्तर के मुख्य द्वार पर ऊं या स्वास्तिक का चिन्ह जरूर बनाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: