लाफिकुल हत्याकांड – पुलिस कर रही हर पहलु की जांच

कोकराझाड़

एबीआम्सू के नेता लाफिकुल इस्लाम अहमद की हत्याकांड के सिलसिले में पुलिस हर पहलु की जांच कर रही है| कोकराझाड़ में डेरा डालकर परिस्थिति का जायजा ले रहे डीजीपी मुकेश सहाय ने कहा है कि जांच सही दिशा में आगे बढ़े इसका ध्यान रखा जा रहा है| उन्होंने कहा, “हमें लगता है कि जब तक इस हत्याकांड से जुड़े अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा, परिस्थिति सामान्य नहीं होगी|”

एबीआम्सू नेता की हत्या के बाद बीटीसी इलाके में सांप्रदायिक तनाव फैलने की आशंका पर पूछे गए सवाल के जवाब में सहाय ने कहा कि इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता और इसीलिए केवल बीटीसी इलाके में ही नहीं राज्य के सभी संवेदनशील इलाकों में इससे निपटने के लिए पर्याप्त कदम उठाए जा रहे हैं|

बीटीसी इलाके में सांप्रदायिक तनाव का इतिहास रहा है| सन 2012 में भी बीटीसी इलाके में बड़ा सांप्रदायिक दंगा हुआ था|

डीजीपी सहाय ने कहा, “हमें ज्यादा चौकन्ना होने की जरुरत हैं| सिर्फ लाफिकुल हत्याकांड की वजह से ही नहीं बल्कि इसलिए भी क्योंकि स्वतंत्रता दिवस नजदीक है| ऐसे में उग्रवादी संगठन अपना सिर उठा सकते हैं|

सहाय ने कहा कि लाफिकुल हत्याकांड से जुड़े संभावित हर पहलु की जांच की जा रही है| मामले के सिलसिले में पशुओं के तस्करों पर भी नजर रखी जा रही है चूँकि एबीआम्सू नेता लाफिकुल इन गत्विधियों का अकसर विरोध करते थे | लाफिकुल हत्याकांड को व्यवसायिक या राजनीतिक मतभेद के नजरिए से भी देखा जा रहा है|

उन्होंने बताया कि मामले के सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है| लाफिकुल के पीएसओ की गिरफ़्तारी के संदर्भ में सहाय ने कहा कि जिस वक्त लाफिकुल की हत्या हुई उनका पीएसओ उनके साथ नहीं था| पूछताछ के दौरान उसने बताया है कि वह उस दिन घर गया हुआ था चूँकि उसकी पत्नी बीमार थी| उसने यह भी बताया कि घर जाने के लिए उसने लाफिकुल से अनुमति भी मांगी थी|

बहरहाल मामले की जांच चल रही है और सभी यह आस लगाए बैठे है कि लाफिकुल के हत्यारे जल्द से जल्द गिरफ्तार हो|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: