कश्मीरी लड़की आयशा अजीज उड़ाएगी मिग-29 लड़ाकू विमान

श्रीनगर

बहुत जल्द आप एक कश्मीरी लड़की आयशा अजीज को आकाश में मिग-29 लड़ाकू विमान उड़ाते देख पायेंगे. जी हाँ आयशा को पिछले हफ्ते ही पायलट का कमर्शियल लाइसेंस मिला है. 21 वर्षीय आयशा को रूस के सोकूल एयरबेस में आयशा को मिग-29 उडाने का मौका मिलने वाला है. अगर वह इसमें कामयाब होती है तो वह भारत की पहली सबसे कम उम्र वाली मिग-29 उड़ाने वाली पायलट बन जाएगी.

आयशा का सपना अंतरिक्ष के किनारे तक पहुंचना है जो शायद अब पूरा होते नज़र आ रहा है. आपने सपने को साकार करने के लिए आयशा ने स्कूल से ही ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी थी.  जब वह 16 साल की थीं, तभी बॉम्बे फ्लाइंग क्लब से उन्होंने स्टूडेंट पायलट लाइसेंस प्राप्त कर लिया था. इसके बाद 2012 में नासा से उन्होंने दो महीने का अतरिक्ष प्रशिक्षण पाठ्यक्रम पूरा किया. वह तीन भारतीयों में चुनी गई थीं. उनकी प्रेरणा भारतीय मूल की अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स हैं.

आयशा कश्मीर की लड़कियों से कहना चाहती है कि वह अपने सपनों का पीछा करना सीखे.  अगर एक बार हार मिलती है तो अपने सपनों के पूरा होने की उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए.  अपनी जिंदगी के उद्देश्यों को पूरा करने की कोशिश करते रहना चाहिए क्योंकि कामयाबी एक दिन जरूर मिलती है.

आयशा के पिता मुंबई के रहने वाले हैं और उनकी मां कश्मीर के बारामुल्ला से हैं। आयशा के भाई आरीब को अपनी बहन पर गर्व है कि इतनी कम उम्र में उनकी बहन ने इतनी उपलब्धियां हासिल कर ली है. उन की ख्वाहिश है कि उन की बहन कामयाबी के हर शिखर को छूए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: