मुख्यमंत्री गोगोई की टिपण्णी पर जर्नलिस्ट फोरम भड़का

गुवाहाटी

हाल ही में मुख्यमंत्री तरुण गोगोई द्वारा असम के पद्म पुरस्कार से सम्मानित हस्तियों पर की गई टिपण्णी को जर्नलिस्ट फोरम असम ने दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। राज्य से पद्म सम्मान हासिल करने वालों में वरिष्ठ पत्रकार धीरेन्द्र नाथ बेजबरुवा भी शामिल है।

जेएफए ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री तरुण गोगोई कैसे सार्वजनिक स्थल में इन हस्तियों का अपमान कर सकते है जिन्हें 67 वें गणतंत्र दिवस के मौके पर केंद्र सरकार की ओर से पद्म श्री घोषित किया गया है।

गत 28 जनवरी को दिसपुर में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री गोगोई ने केंद्र के इस फैसले पर यह कहते हुए आपत्ति जताई थी कि असम सरकार द्वारा भेजी गई सूची में से केंद्र सरकार ने किसी को पद्म श्री के लिए नहीं चुना। उन्होंने साथ ही यह भी कहा था कि केंद्र ने राज्य सरकार की ओर से भेजी गई सूची को ठुकराकर संघीय ढांचे का अपमान किया है।

यहाँ तक कि मुख्यमंत्री ने ये सवाल भी खड़ा किया था कि किसके सुझाव पर पद्म पुरस्कार दिए गए। क्या इस साल राज्य से जिन 4 लोगों को पुरस्कार दिए गए वे बीजेपी नेताओं द्वारा चुने गए?

जेएफए के अध्यक्ष रूपम बरुवा और सचिव नव ठाकुरिया ने कहा कि डी एन बेजबरुवा जैसे एक वरिष्ठ पत्रकार का अपमान मीडिया समूह का अपमान है और एक मुख्यमंत्री को यह शोभा नहीं देता। उन्होंने खेद जताते हुए कहा कि हम एक ऐसे राज्य में रहते है जहाँ के मुख्यमंत्री गैर जिम्मेदाराना बयानबाजी करते है। फोरम ने गोगोई सरकार द्वारा पिछले 15 साल में भेजी गई पद्म श्री की सूची पर भी सवाल उठाया और कहा कि वरिष्ठ पत्रकार डी एन बेजबरुवा को यह सम्मान कई साल पहले ही मिल जाना चाहिए था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: