GST बिल राज्य सभा में पूर्ण बहुमत से हुआ पास

नई दिल्ली

16 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद आखिर कार राज्यसभा में आज ” गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स ” यानी जीएसटी  (GST) बिल पूर्ण बहुमत से पास हो गया और संविधान संशोधन बिल के खिलाफ एक भी वोट नहीं पड़ा.  राज्यसभा में कांग्रेस का समर्थन मिलने के बाद जीएसटी यानी वस्तु और सेवा कर लागू करने के लिए जरूरी संविधान संशोधन विधेयक पर संसद की मुहर लग चुकी है. यह अब तक सबसे कड़ा आर्थिक सुधार है, क्योंकि इससे पूरे देश में एक समान टैक्स लगेगा.

जीएसटी बिल पर चर्चा के दौरान अरुण जेटली ने भरोसा दिलाया कि गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स की दर ना तो आम लोगों पर बोझ बढ़ाएगी और ना ही राज्यों को नुकसान होगा. उन्होंने कहा कि इस कानून से टैक्स की चोरी रुकेगी और पूरी अर्थव्यवस्था को रफ्तार मिलेगी.

ArjunGST बिल पर मोदी सरकार द्वारा किए गए महत्वपूर्ण बदलाव

  • राज्यों के बीच कारोबार पर 1 फीसदी अतिरिक्त टैक्स नहीं लगेगा. मूल विधेयक में राज्यों के बीच व्यापार पर 3 साल तक 1 फीसदी अतिरिक्त टैक्स लगना था.
  • जीएसटी से नुकसान होने पर अब 5 साल तक 100% मुआवजा मिलेगा. मूल विधेयक में 3 साल तक 100%, चौथे साल में 75% और 5वें साल में 50% मुआवजे का प्रस्ताव था.
  • विवाद सुलझाने के लिए नयी व्यवस्था की गई है, जिसमें राज्यों की आवाज बुलंद होगी. पहले विवाद सुलझाने की व्यवस्था मतदान आधारित थी, जिसमें दो-तिहाई वोट राज्यों के और एक तिहाई केंद्र के पास थे.
  • विधेयक में जीएसटी के मूल सिद्धांत को परिभाषित करने वाला एक नया प्रावधान जोड़ा जाएगा, जिसमें राज्यों और आम लोगों को नुकसान नहीं होने का भरोसा दिलाया जाएगा.

संविधान संशोधन विधेयक पर संसद के दोनों सदनों की मुहर लगने के बाद अब कम से कम 15 राज्यों की विधानसभाओं की मंजूरी चाहिए होगी इसके बाद राष्ट्रपति हस्ताक्षर करेंगे, जिससे ये कानून बनेगा.माना जा रहा है कि ये प्रक्रिया नवंबर तक पूरी होगी और दोबारा विचार के लिए विंटर सेशन में लाया जा सकता है.

जाने क्या है जीएसटी और कैसा होगा इस का प्रभाव

  • अलग-अलग सामान के लिए इस वक्त हम 30 से 35 प्रतिशत तक टैक्स देते है, लेकिन अगर जीएसटी लागू हो जाए तो हमें इन सभी टैक्सेज को मिलाकर सिर्फ एक जगह 17 या 18 प्रतिशत टैक्स देना होगा.
  • जीएसटी लागू होने के बाद देशभर में सभी सामान एक कीमत पर मिलेगा और टैक्स भी एक ही जैसा होगा.
  • जीएसटी बिल पास होने के बाद सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी, एडीशनल एक्साइज ड्यूटी, सर्विस टैक्स, एडीशनल कस्टम ड्यूटी, स्पेशल एडिशनल ड्यूटी ऑफ कस्टम, वैट/सेल्स टैक्स, सेंट्रल सेल्स टैक्स, मनोरंजन टैक्स, ऑक्ट्रॉय एंडी एंट्री टैक्स, परचेज टैक्स खत्म हो जाएंगे.
  • जीएसटी लागू होने के बाद आम आदमी के लिए कुछ चीजें सस्ती हो जाएगी. वैट और सर्विस टैक्स खत्म होने के बाद आपके लिए घर खरीदना सस्ता हो सकता है. रेस्टोरेंट में खाना खाना सस्ता होगा. एयरकंडीशनर, माइक्रोवेव ओवन, फ्रिज, वाशिंग मशीन सस्ती हागी. माल ढुलाई भी 20 फीसदी तक सस्ती हो सकती है.
  • जीएसटी बिल लागू होने के बाद चाय-कॉफी, डिब्बाबंद फूड प्रोडक्ट महंगे हो सकते हैं. मोबाइल बिल, क्रेडिट कार्ड का बिल महंगा होगा. जेम्स एंड ज्वैलरी महंगी होनी. रेडिमेड गारमेंट भी महंगे होंगे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: