फ्रीडम 251: रिंगिंग बेल पर काल सेंटर ने लगाया जालसाजी का आरोप

नई दिल्ली

पूरी दुनिया में सब से सस्ता स्मार्टफोन फ्रीडम 251 बनाने और बेचने का दवा करने वाली कंपनी रिंगिंग बेल के खिलाफ अब एक काल सेंटर ने धोकाघड़ी और जालसाजी का आरोप लगाया  है। यह आरोप  ग्राहकों को सेवा प्रदान करने वाली कॉल सेंटर फर्म साइफ्यूचर ने लगाया है। कॉल सेंटर ने नोएडा की इस कंपनी पर जालसाजी और बकाया पैसा नहीं देने का आरोप लगाया है। वहीं, रिंगिंग बेल ने कॉल सेंटर फर्म के इन आरोपों को खारिज कर दिया है।freedom 251 -2

साइफ्यूचर के सीइओ और संस्थापक अनुज बैराथी एक ब्यान जारी कर कहा है कि  “हम शुरू से ही रिगिंग बेल और उनके कारोबारी मॉडल को लेकर संदेह कर रहे थे। हमने उनकी मैनेजमेंट टीम से कई चरणों में बातचीत भी की। कंपनी ने बड़े और वरिष्ठ राजनेताओं के नाम दिखाए, जो उनके मोबाइल लांचिंग में शामिल होने वाले हैं। इसे देख कर हमने उनका प्रोजेक्ट लिया”।

फ्रीडम 251 के आवरण से पहले शुरुआती कुछ दिनों के दौरान कॉल सेंटर ने लाखों फोन कॉल अटेंड किए। कंपनी का बिजनेस बढ़ाने में सहयोग दिया। जब उन्होंने कॉल सेंटर का बकाया पैसा देने की बात कही तो रिगिंग बेल ने झूठा आरोप लगाकर अचानक कॉल सेंटर की सेवा बंद कर दी। यह सीधे तौर पर धोखधड़ी, जालसाजी और अनुबंध तोड़ने का मामला है। रिंगिंग बेल के खिलाफ केंद्र सरकार की कई एजेंसियां जांच कर रही हैं।

जानिये: एक फ्रीडम 251 बेचने पर कंपनी को कैसे होगा 31रूपए का मुनाफा

जानिये: एक फ्रीडम 251 बेचने पर कंपनी को कैसे होगा 31रूपए का मुनाफा

ज़रूर पढ़िये: फ्रीडम 251 से संबंधित महत्वपूर्ण सवाल और जवाब

फ्रीडम 251 बनाने वाली रिंगिंग बेल के खिलाफ अर्जीआयकर विभाग की भी नज़र

फ्रीडम 251 की बुकिंग बंद, केवल 25 लाख ग्राहकों को मिलेगा फ़ोन

स्‍मार्टफोन फ्रीडम 251: सरकार ने दी जांच के आदेश

ज़रूर पढ़िए- फ्रीडम 251की कीमत के राज़ से कंपनी ने उठाया परदा

किराने की दूकान चलाते हैं रिंगिंग बेल कंपनी और फ्रीडम 251 के मालिक

ज़रूर पढ़िए – किया है स्मार्टफोन “फ्रीडम 251” का सच

ज़रूर पढ़िए- स्मार्टफ़ोन फ्रीडम 251 की बुकिंग क्यों रोक दी गई

सबसे सस्ते स्मार्टफोन फ्रीडम 251 की साइट बुकिंग शुरू होते ही हो गई क्रैश

भारत का फ्रीडम 251: दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्ट फोन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: