फ्रीडम 251 बनाने वाली रिंगिंग बेल के खिलाफ अर्जी, आयकर विभाग की भी नज़र

लखनऊ

एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) की उत्तर प्रदेश इकाई ने सिर्फ 251 रुपये में स्मार्टफोन फ्रीडम 251 बनाने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्स के खिलाफ अर्जी दी है. अर्जी  लखनऊ में हजरतगंज के पुलिस अधीक्षक (पूर्व) को दी गयी है. अर्जी में दवा किया गया है कंपनी फ्रीडम 251 मोबाइल की बिक्री के नाम पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है. इस अर्जी में लिखा गया है कि जिन फीचर्स को 251 रुपये में देने की बात की जा रही है, वैसा फोन इतना कम कीमत बनाया ही नहीं जा सकता है.

उधर दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन बाजार में उतारने का दावा करने वाली कंपनी ‘रिंगिंग बेल्स’ एक्साइज ड्यूटी और आयकर विभागों की जांच के घेरे में आ गयी. कंपनी के 251 रुपये में स्मार्टफोन बेचने को लेकर लगातार उठते सवालों के बीच आयकर विभाग की नजर कंपनी पर गई है. सूत्रों के अनुसार आयकर विभाग नोएडा स्थित कंपनी के वित्तीय ढांचे की जांच पड़ताल कर रहा है.

मात्र 251रुपए में स्मार्टफोन का दावा करने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्स के बारे में एक और खुलासा हुआ है. रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के यहां रिंगिंग बेल्स ने नई दिल्‍ली के गांधी नगर का पता दिया है, लेकिन उस पते पर उस का कोइ आफिस नहीं है.

इसे भी पढ़ें :Freedom-16

फ्रीडम 251 की बुकिंग बंद, केवल 25 लाख ग्राहकों को मिलेगा फ़ोन

स्‍मार्टफोन फ्रीडम 251: सरकार ने दी जांच के आदेश

ज़रूर पढ़िए- फ्रीडम 251की कीमत के राज़ से कंपनी ने उठाया परदा

किराने की दूकान चलाते हैं रिंगिंग बेल कंपनी और फ्रीडम 251 के मालिक

ज़रूर पढ़िए – किया है स्मार्टफोन “फ्रीडम 251” का सच

ज़रूर पढ़िए- स्मार्टफ़ोन फ्रीडम 251 की बुकिंग क्यों रोक दी गई

सबसे सस्ते स्मार्टफोन फ्रीडम 251 की साइट बुकिंग शुरू होते ही हो गई क्रैश

भारत का फ्रीडम 251: दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्ट फोन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: