बाढ़ से सुरक्षा के उठाए ऐहतियाती कदम – सोनोवाल

गुवाहाटी

बरसात के पहले ही सभी जिलों के उपायुक्तों को अपने-अपने जिलों में बाढ़ से सुरक्षा संबंधी ऐहतियाती कदम उठाने का मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने निर्देश दिया है| प्राकृतिक आपदा के समय पीड़ितों को बचाने और राहत कार्यों में सहूलियत हो इसी उद्देश से मुख्यमंत्री ने यह निर्देश जारी किया है|

उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश दिया कि प्राकृतिक आपदा में मारे जाने वालों के आश्रितों को 48 घंटे के भीतर एकमुश्त सहायता राशि मिल जानी चाहिए| विशेष परिस्थिति में तो 24 घंटे के अंदर यह सहायता राशि उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाए|

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ के समय यह उपायुक्तों की जिम्मेदारी है कि रोज दिन में 2 बजे तक राजस्व ओ देवीय आपदा प्रबंधन विभाग को विभिन्न तथ्यों सहित रिपोर्ट पहुँच जाए| उन्होंने ख़ास तौर पर काजीरंगा राष्ट्रीय पार्क के वन्य जीवों को बाढ़ के समय उंचाई के स्थानों की पूर्व व्यवस्था पर बल दिया| इस क्रम में मुख्यमंत्री ने गोलाघाट के उपायुक्त के साथ पुलिस अधीक्षक को भी निर्देश दिया| उन्होंने कहा कि वन्य जीवों को ध्यान में रखते हुए पार्क के आसपास समुचित व्यवस्था अभी से कर ली जाए| इसमें काजीरंगा पार्क के आसपास रहने वाले स्थानीय लोगों को भी भरोसे में लिया जाए|

मुख्यमंत्री ने गोलाघाट, शिवसागर और जोरहाट के उपायुक्तों को निर्देश दिया है कि व्यक्तिगत रूचि लेते हुए नुमलीगढ़ से शिवसागर तक राष्ट्रीय राजमार्ग की मरम्मत का काम एक सप्ताह में पूरा कर लें| इस दौरान मुख्यमंत्री ने करीमगंज उपायुक्त से सीमा पर बाड़ लगाने के कार्य की अद्यतन स्थिति की जानकारी भी ली|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: