फर्जी मुठभेड़ का दावा करने वाले सीआरपीएफ के आईजी रजनीश राय उत्तर-पूर्व से स्थानांतरित

शिलांग

असम मुठभेड़ को फर्जी बताने वाले सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर जनरल रजनीश राय को तत्काल प्रभाव से उत्तर-पूर्व से स्थानांतरित कर दिया गया है। राय को आंध्र प्रदेश के चित्तूर में सीआरपीएफ के काउंटर इंसर्जेंसी एंड एंटी टेररिज्म स्कूल में शामिल होने के लिए कहा गया है। राय को शिलांग में उत्तर पूर्व सेक्टर के सीआरपीएफ के आईजी के रूप में तैनात किया गया था।

रजनीश राय ने चिरांग जिले में हुए एक मुठभेड़ को फर्जी बताते हुए मामले की जांच बुलाई थी| बीते मार्च महीने में चिरांग जिले में सेना, सीआरपीएफ, एसएसबी और राज्य पुलिस ने मुठभेड़ में दो लोगों को मार गिराया था।

अधिकारी ने कहा था कि उनके द्वारा किए गए एक जांच में पाया गया कि 30 मार्च को असम के सिमलागुरी गांव में फर्जी मुठभेड़ में दो एनडीएफबी कैडरों की मौत हो गई थी। उन्होंने कहा कि दो लोगों को एक घर से उठाया गया था और सुरक्षा बलों ने उनकी बेरहमी से हत्या करने के बाद उनके पास हथियार रख दिए थे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: