विवादों के बीच दीनदयाल उपाध्याय आदर्श महाविद्यालय का उद्घाटन

बंगाईगाँव

शिक्षा मंत्री डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने बंगाईगाँव के तुलुनगिया और दुधनै के आमजोंगा में कल पंडित दीनदयाल उपाध्याय आदर्श महाविद्यालय का उद्घाटन किया| दीनदयाल उपाध्याय नाम को लेकर चल रहे विवादों के बीच ही आदर्श महाविद्यालय का उद्घाटन करने के उद्देश्य से शिक्षा मंत्री बुधवार सुबह बंगाईगाँव पहुंचे|

इस मौके पर उन्होंने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय के आदर्शों पर चलकर ही दो व्यक्ति प्रधानमंत्री के पद पर आसीन हुए थे| उन्होंने कहा कि एक महान व्यक्ति के नाम पर महाविद्यालय का उद्घाटन कर मुझे उतनी ही खुशी हो रही है जितनी प्रथम संतान के जन्म पर होती है|

मंत्री ने कहा कि तुलुनगिया आदर्श महाविद्यालय में चालू वर्ष में वाणिज्य शाखा का उद्घाटन किया गया है, लेकिन अगले साल यहाँ विज्ञान शाखा खोलने की भी व्यवस्था की जाएगी| उन्होंने उम्मीद जताई कि इस महाविद्यालय के छात्र भविष्य में राष्ट्र निर्माण करेंगे|

इधर पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम को लेकर जारी विवाद के संदर्भ में उन्होंने कहा कि भारत के तीन महान व्यक्ति है महात्मा गांधी, दीनदयाल उपाध्याय और राममोहन लोहिया| पंडित दीनदयाल उपाध्याय के आदर्शों पर चलकर ही अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने| इसलिए देश के एक ऐसे महान व्यक्ति के नाम पर महाविद्यालय के नामांकन से राज्यवासियों को गौरव अनुभव करना चाहिए|

दुधनै के आमजोंगा में भी आदर्श महाविद्यालय का उद्घाटन कर अपने संबोधन में शिक्षा मंत्री ने कहा कि आज मैंने ज्ञान के मंदिर की सृष्टि कर आनंद अनुभव किया है| इस दौरान उन्होंने कहा कि चालू साल में इस महाविद्यालय में विज्ञान शाखा का उद्घाटन किया गया है, लेकिन अगले साल यहाँ कला शाखा खोलने की भी व्यवस्था की जाएगी| इसके अलावा छात्राओं के लिए निःशुल्क निवास निर्माण की भी व्यवस्था की जाएगी|

महाविद्यालय के उद्घाटन के मौके पर जिले के विभिन्न प्रांतो से हजारों लोग और छात्र-छात्रा उपस्थित थे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: