बादल फटने से उत्तरी सिक्किम बेहाल, पर्यटक फंसे, पुल और गेस्ट हाउस बह गए

बादल फटने से उत्तरी सिक्किम का बुरा हाल है. तीस्ता नदी उफान पर है, एक suspension bridge और  नदी के किनारे बना NHPC का गेस्ट हाउस बह गए हैं, 300 से अधिक पर्यटक भी फंसे हुए हैं.


गंगटोक

बादल फटने और फिर भारी वर्षा के कारण उत्तरी सिक्किम का हाल बेहाल है. खबरों के अनुसार  करीब 300 पर्यटक जिमा में फंस गए हैं.  उधर ऊपरी  इलाका चुंगथांग में भारी बारिश हो रही है. चुंगथांग-लाचेन-थांगू के बीच सड़क बंद है. इस कारण पर्यटक फंस गए हैं. फिलहाल लाचेन पुलिस पर्यटकों का रेस्क्यू करने में जुट गई है. तीन स्थानों से कई पर्यटकों को लाचेन लाया जा रहा हैI

जिमा में लगभग 250 से 300 पर्यटक फंसे हुए हैं. लाचेन पुलिस ने तीन स्थानों से लोगों को निकाला है. भारी बारिश की चपेट में आए इन लोगों को लाचेन ले जाया जाएगा. चुंगथांग में बारिश जारी है. चुंगथांग-लाचेन-थांगू के बीच सड़क कई स्थानों पर लैंड स्लाइड के कारण सड़क बंद हो गए हैं.

अधिकारी सूत्रों के अनुसार  बादल फटने के बाद सोमवार को उत्तरी सिक्किम में 60 से अधिक पर्यटक वाहन फंसे हुए हैं। उत्तरी सिक्किम के जिला कलेक्टर राज यादव ने कहा कि बारिश के कारण लछेन और जेमा  के बीच वाहन फंस गए।

नॉर्थ सिक्किम में बादल फटने के कारण मंगली बाजार के पास तीस्ता नदी पर पूर्व और दक्षिण सिक्किम को जोड़ने वाला  सस्पेंशन फुट ब्रिज बह गया है । यह इकलौता ऐसा पुल था जो  रालप और मंगलवे बाजार के बीच पूर्व और दक्षिण को जोड़ता थाI

सिक्किम से मिल रही खबरों अनुसार, डिच्चू पुल के पास स्थित एनएचपीसी गेस्ट हाउस भी तीस्ता नदी के तेज़ बहाव  में बह गया है।

मुख्यमंत्री पीएस गोले ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि पर्यटकों को उनके गंतव्य तक ले जाने वाले वाहनों के जाने के लिए सड़क को जल्द से जल्द साफ किया जाए।

आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि गोले ने अधिकारियों को पर्यटकों और आम जनता की हरसंभव मदद करने का भी निर्देश दिया, जो आपदा के कारण पीड़ित हैं।

उत्तरी सिक्किम के जिला कलेक्टर ने कहा कि खराब मौसम के कारण दज़ोंगू, लाचेन और लाचुंग के लिए पर्यटक परमिट जारी नहीं करने का निर्णय लिया गया है।

इससे पहले, बादल फटने से तीस्ता नदी की ऊपरी पहुंच में बारिश हुई और तीस्ता तृतीय जलविद्युत परियोजना के अधिकारियों ने चुंगथांग बांध से 600 क्यूसेक पानी छोड़ा।

नॉर्थ सिक्किम में बादल फटने के कारण मंगली बाजार के पास तीस्ता नदी पर पूर्व और दक्षिण सिक्किम को जोड़ने वाला  सस्पेंशन फुट ब्रिज बह गया है । यह इकलौता ऐसा पुल था जो  रालप और मंगलवे बाजार के बीच पूर्व और दक्षिण को जोड़ता थाI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: