NATIONAL

CAA को ले कर दिल्ली में हिंसा जारी,11 की मौत, 56 पुलिसकर्मी समेत 186 लोग घायल

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के सभी सरकारी और निजी स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे.

नई दिल्ली

उत्तर पूर्वी दिल्ली ( Delhi) में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर जारी हिंसा (violence) में अब तक एक 11 लोगों की मौत हो चुकी है जबकी 56 पुलिसकर्मियों समेत 186 लोग घायल हुए हैं.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के सभी सरकारी और निजी स्कूल बुधवार को भी बंद रहेंगे. गृह परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं. सीबीएसई से भी कल की बोर्ड परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया है.

इससे पहले, उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा में घायल हुए लोगों से मिलने के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के साथ अन्य आप नेता जीटीबी अस्पताल पहुंचे. अस्पताल में केजरीवाल ने घायलों से मुलाकात कर उनका हाल जाना.

वहीं, कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि दिल्ली को दंगों वाली दिल्ली बना दी गई है. उन्होंने कहा कि कुछ सांप्रदायिक ताकतें दिल्ली को दंगों वाली दिल्ली बना रही हैं. आज पड़ोसी एक दूसरे से पत्थरों से बात करते हैं, हम सब दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सरकार के पीछे खड़े हैं. सरकार को अपना काम करना चाहिए.

शाम में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए दिल्ली पुलिस के डीसीपी एमएस रंधावा ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसक प्रदर्शन में अब तक 10 लोगों की मौत हुई है. इस हिंसक प्रदर्शन में 56 पुलिसकर्मियों को चोटें लगी हैं. वहीं, 130 आम लोग घायल हुए हैं.

रंधावा ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अफवाहों पर ध्यान नहीं दें. लोगों ने छतों से भी पथराव किया. हिंसा वाले इलाके में भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती है. डीसीपी ने बताया कि हिंसा के मामले में 11 एफआईआर दर्ज की गई हैं और कई लोगों को हिरासत में लिया गया है.

हिंसा के बाद प्रभावित इलाकों में अर्धसैनिक बलों की 13 कंपनियां तैनात की गई हैं. इसके अलावा दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल, क्राइम ब्रांच और आर्थिक अपराध शाखा के अधिकारियों की भी तैनाती की गई है.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, दिल्ली के कई जिलों से स्थानीय पुलिस को भी बुलाया गया है. सूत्रों का कहना है कि पैरा मिलिट्री की 13 कंपनियां तैनात की गई हैं, जबकि समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार अर्धसैनिक बलों की 35 कंपनियों की तैनाती की गई है.

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close