बीजेपी ने जारी किया असम का विज़न डॉक्यूमेंटस

गुवाहाटी

असम में 15 वर्षों से कांग्रेस की विफल सरकार है. अब समय आ गया है कि असम से कांग्रेस की इस विफल सरकार को उखाड़ फेंका जाए.  इसी मकसद से हम ने सभी राजनैतिक पार्टियों को एक मंच पर ला कर गठबंधन बनाया है ताकि असम में परिवर्तन लाया जा सके और हमें उम्मीद है की हम अपने इस प्रयास में ज़रूर सफल होंगे. अगले 10 वर्षों के लिए असम का विज़न डॉक्यूमेंटस जारी करते हुए केन्द्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली ने यह बातें आज गुवाहाटी में कहा.

इस अवसर पर प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए जेटली ने विज़न डाक्यूमेंट्स की पांच मुख्य बातें मीडिया के सामने रखा.

1- परिवर्तन की लहर-  जेटली ने कहा कि जैसे जैसे चुनाव के दिन नज़दीक आ रहे हैं, पूरे राज्य में परिवर्तन की लहर देखने को मिल रहे है जो इस बात और इशारा कर रही है की हमें अफलता ज़रूर मिलेगी और असम में अगले सरकार बीजेपी की बनेगी.

2- ज़मीनी विकास–   असम की जनता विकास की नारों से तंग आ चुकी है. वोह अपने राज्य में ज़मीनी स्तर पर विकास देखना चाहती है जो कांग्रेस की सरकार में उन्हें कहीं भी देखने को नहीं मिल रहा है. इस लिए जनता अब एक अवसर बीजेपी को देना चाहती है.

3- यूथ बदलाव चाहता है-   आज का यूथ अपनी तरह यंग सरकार चाहता है, कांग्रेस की सरकार बूढ़ी हो गयी है. इस लिए असम का यूथ एक यंग मुख्य मंत्री के रूप में सरबानन्द सोनोवाल को देख रहा है.

4- गठबंधन सफल होगा-   जेटली ने कहा कि हम ने जिन पार्टियों के साथ बनाया है वोह पार्टियां, असम की समस्याओं को, यहाँ की ज़रूरतों को, अच्छी तरह समझती हैं. वोह जानती हैं की कांग्रेस पार्टी सिवाए  भ्रष्टाचार के और कुछ नहीं कर रही है.   गठबंधन की हर पार्टी का अलग अलग इलाकों में अपनी पकड़ है इस लिए हमारी यह गठबंधन ज़रूर सफल होगी और इस बार असम में बीजेपी की नेतृत्ववाली सरकार बनेगी.

5- सरबानन्द सोनोवाल का नेतृत्व- जेटली ने कहा की सब से इस चुनाव में हमारे लिए सब से अहम है हमारे मुख्य मंत्री पद के उमीदवार सरबानन्द सोनोवाल, जो यंग हैं और असम की समस्या को बड़ी बारीकी से जानते हैं. उन्हों याद दिलाया की सोनोवाल ने घुसपैठ के खिलाफ एक लम्बी लड़ाई लड़ी

जेटली ने  संवाददाता सम्मेलन में साफ़ शब्दों में कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि असम की कांग्रेस सरकार ने घुसपैठ रोकने के लिए कभी कुछ नहीं किया. सीमा को खुला रखा ता कि घुस्पिअथ आते रहे और उन का वोट बैंक बनता रहे.

जेटली ने मुख्य मंत्री तरुण गोगोई के उस आरोप को भी ग़लत बताया की केंद्र की भजपा सरकार ने राज्य को मिलने वाले फंड में कामे कर दी है. जेटली ने कहा की सच्चाई यह है की अब राज्य को पहले से अधिक फंड मिल रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: